बसपा प्रत्‍याशी अखंड प्रताप सिंह के करीबी को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये जाने से भड़के बसपाई, घेरा थाना

0
200

आजमगढ़ : मतदान से ठीक एक दिन पहले अतरौलिया का सियासी माहौल गर्म हो गया है। यहां बसपा प्रत्‍याशी अखंड प्रताप सिंह के करीबी प्रदीप सिंह को शुक्रवार की सुबह पुलिस ने आवास से उठा लिया। इसकी जानकारी होने पर बसपाइयों का गुस्‍सा फूट पड़ा और सैकड़ों की संख्‍या में बसपाई कप्‍तानगंज थाने पहुंच गए। बसपा के लोगों ने सत्‍ता और माध्‍यमिक शिक्षा मंत्री के दबाव में गिरफ्तारी का आरोप लगाया। दोनों पक्षों में बातचीत जारी है। पुलिस अभी कुछ बोलने के लिए तैयार नहीं है।

बता दें कि अतरौलिया विधानसभा सीट से माध्‍यमिक शिक्षा मंत्री बलराम यादव के पुत्र डा. संग्राम यादव सपा के टिकट के मैदान में हैं। वहीं बसपा से अखंड प्रताप सिंह तथा भाजपा से कन्‍हैया निषाद चुनाव लड़ रहे हैं। इस सीट पर मंत्री की प्रतिष्‍ठा दांव पर लगी है। कारण कि पिछले कुछ समय से सपा में उनकी साख कम हुई है। समाजवादी पार्टी किसी भी हाल में यह सीट जीतना जाहती है। यहां पार्टी ने सारे स्‍टार प्रचारकों को मैदान में उतार दिया है। सवर्ण मतदाताओं की बाहुलता और बसपा से अखंड सिंह तथा भाजपा से अति पिछड़ी जाति के कन्‍हैंया प्रसाद निषाद के मैदान में आने से लड़ाई त्रिकोणीय हो गई है।
बसपाइयों का आरोप है कि सत्‍ता और मंत्री के इशारे पर अतरौलिया, कप्‍तानगंज और अहरौला थाने की पुलिस कुसमहरा बिलारी पहुंची और प्रदीप सिंह को उनके आवास से उठा लिया। पुलिस उन्‍हें लेकर सीधे कप्‍तानगंज थाने पहुंच गई। बसपा के लोगों ने बताया कि पुलिस का कहना है कि प्रदीप के बाहर रहने से चुनाव प्रभावित हो सकता है लेकिन सच यह है कि वह समाजवादी पार्टी को लाभ पहुंचाने के लिए ऐसा कर रही है। सैकड़ों की संख्‍या में बसपाई थाने पर जमा है और प्रदीप की रिहाई की मांग कर रहे हैं। पुलिस इस मामाले में कुछ बोलने के लिए तैयार नहीं है। मतदान से ठीक पहले यहां माहौल गरम होता दिख रहा है।

रिपोर्ट–संदीप त्रिपाठी संगम

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here