व्यापारी कर रहे संघर्ष लेकिन नहीं बनी सड़क

0
75
प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ(ब्यूरो)- मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 25 मार्च को प्रदेश की सड़कों को 15 जून तक गड्‌ढा मुक्त करने का निर्देश दिया था लेकिन दो महीने से अधिक समय गुजरने के बाद भी काम रफ्तार नहीं पकड़ सका है नगर निगम ने शहर की 246 सड़कों को चिह्नित किया था, लेकिन अब तक सिर्फ 40% सड़कें ही गड्‌ढा मुक्त हो सकी हैं जबकि डेडलाइन पूरी होने में सिर्फ 13 दिन ही बचे हैं|

निर्माण सामग्री डालकर चले गए इंदिरा नगर आवासीय महासमिति के महामंत्री सुशील कुमार बच्चा ने बताया कि सेक्टर 9 सहित कई मोहल्लों में कई दिन पहले सड़कों की मरम्मत के लिए नगर निगम कर्मचारियों ने निर्माण सामग्री डाली थी लेकिन काम अब तक शुरू नहीं हुआ है| इसके अलावा बाबूगंज और एलयू के पास भी तीन दिन से निर्माण सामग्री पड़ी है। यहां रहने वाले मुकेश ने बताया कि सड़क पर निर्माण सामग्री होने के कारण राहगीरों को परेशानी हो रही है|

यह सड़क चौक स्थित ज्योतिफुले पार्क के पास की है सड़क पर बड़ बड़े गड्‌ढे हो चुके हैं लेकिन इन्हें भरा नहीं जा रहा है लखनऊ व्यापार मंडल के महामंत्री अभिषेक खरे बताते है कि सीएम के निर्देश से पहले व्यापारी इस सड़क की मरम्मत करवाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं लेकिन नगर निगम ध्यान नहीं दे रहा है|

दो किमी का सफर मुश्किल हुसैनगंज चौराहे से हिवेट रोड होते हुए लाटूश रोड की तरफ जाने वाली इस सड़क की लंबाई दो किलोमीटर से भी कम है लेकिन गड्ढे छोटे से सफर को भी मुश्किल बना देते हैं अभी तक नगर निगम की नजर इस सड़क पर नहीं पड़ी है|

रिपोर्ट-मिंटू शर्मा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY