जलती हुई लाइटो को बदलवाकर, खराब दिखा कर किया गुमराह

0
141

हसनगंज/उन्नाव(ब्यूरो)- नगर निकाय चुनाव आने के ठीक पहले ही जलती हुई लाइटे को बदलवाकर खराब दिखा कर नई लाइटों को लगाने के नाम पर लाखों रुपये का घोटाला कर बन्दर बाट हो गया, और अधिशासी अधिकारी की मिली भगत के चलते पैसा बंट भी गया लेकिन सभासदों को ये बात नागवार गुजरी जिस पर मुख्यमंत्री को शिकायती प्रार्थना पत्र देकर कार्यवाही की मांग की है |

जी हां नगर पंचायत न्योतनी में अधिशासी अधिकारी की खाऊ कमाऊ नीति के चलते कस्बे में लगी चालू हालत की लाइट को खराब दिखा नई लाइटे लगवा कर पैसों का गमन किया गया है जिसे नगर पंचायत के सभासदों ने अधिशासी अधिकारी के खिलाफ के ऊपर गमन का आरोप लगाकर मुख्य मंत्री को आवेदन प्रत्यावेदन देकर कार्यवाही की मांग उठाई है |

नगर पंचायत न्योतनी के विगत सपा शसना काल से विकास कार्यो , सफाई, कीटनाशक व संयन्त्रों को खरीदने मे लाखो घोटालो की शिकायतें एस डी एम से लेकर डी एम व मुख्य मंत्री तक पहुचती रही लेकिन जाँच अधिकारी औपचारिकता कर फर्जी रिपोर्ट भेजते रहे|

भाजपा की नई सरकार बनते ही नगर पंचायत न्योतनी के गुलजार अख्तर ने घोटालो की लम्बी फेरिस्त बना कर योगी सरकार तक पहुचा फिर भी शासन और प्रशासन अधिशासी अधिकारी के खिलाफ जमीनी हकीकत को देखने मे असहाय बने रहे तथा अधिशासी अधिकारी व चेयर मैन की मिली भगत से सरकारी धन को बन्दर बाट का सिल सिला नही थमा जिस पर नगर विकास चुनाव की घोषणा होते ही जलती टाउन की लाइटे नगर पँचायत की खराब लाइटे दिखाकर सुनोजित ढंग से करीब 150 लाइटो को कार्य योजना बनाकर पास कर दिया|

जिसमें भुगतान हरदोई की वन्स इलेक्ट्रॉनिक कम्पनी फर्म को दिखा कर ईओ ,चेयर मैन व ठेकेदार आपस में मिलकर भुगतान का बन्दर बाट कर लिया गया ।

50 लाइटे 60 वाट की प्रति लाइट 16850 रुपये की , 100 लाइट 48 वाट की प्रति लाईट 11515 जिसकी कुल कीमत लगभग 19 लाख हुवी जिसमे से 13 लाख का भुगतान हो गया बाकी का भुगतान एस डी एम मनीष बंशल ने रोक लगा दी जिसका भुगतान शेष 26 मई को होना था लेकिन न्योतनी के 12 सभासदो ने एकजुट होकर विरोध प्रदर्शन कर आर टी आई से स्ट्रीट लाइटो किये गए भुगतान पर अड़े रहे |

लाइटों को लगाने का काम जेई पी डब्लू डी की रिपोर्ट पर फर्जी भुगतान हो गया जबकि सविदा पर कार्य कर रहे मजदूर श्रमिको ने किया जबकि कर्मचारी का भुगतान न देकर 9/5/17को 13 लाख बैक से लाइटों का भुगतान कमीशन के चलते बन्दर बाट हो गया तथा ईओ रेनू यादव 6 माह की की छुट्टी ले कर रवाना हो गयी जबकि सविदा पर काम कर रहे कर्मचारीयो का भुगतान नही हो सका |

जलती हुवी टाउन की लाइटो को खुलवाकर कूड़े के तरीके कमरे मे डाल दिया जबकि सभासदो ने बताया कि हैवेल्स कम्पनी के अनुसार 48 वाट की प्रति लाईट 4000 की ,व 60 वाट की लाईट 5000 की होलसेल बिक्री होती है जिसको अधिशासी अधिकारी ,ढेकेदार की साठ गाठ का लगभग तीन गुना दाम दिखाकर भुगतान कर दिया गया |

ऐलिडी लाइटो को लगाने मे हुवे घाल मेल को लेकर सभासदों ने एकजुट होकर प्रकरण की जांच कराने के लिए सोमवार को एस डी एम मनीष बंसल से शिकायत की वही जिला अधिकारी मण्डल आयुक्त, प्रमुख सचिव ,नगर विकास मंत्री, सहित मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ को फैक्स कर नगर पंचायत न्योतनी के सरकारी धन के दुरुपियोग की जाँच कराकर कार्य वाही की माँग की है|

शिकायत कार्यकर्ता सभासद , श्री मती माधुरी, श्री मती चम्पा, मंशा राम, विमला, पुष्पा देवी , राजू सभासद , कमलेश सभासद, इमरान अहमद, सिराज अहमद, हसीन उल्ला, फरहान अहमद, श्री पाल, अरुण आदि शामिल है |

एस डी एम मनीष बंशल पूछने पर बताया की नगर पंचायत काम करने के लिए स्वतंत्र रहती है लेकिन नगर पंचायत सभासदों की शिकायत मिली है जिसकी पत्रावली तलब की गयी है तथा अग्रिम भुगतान के लिए रोक लगा दी गयी है

रिपोर्ट-राहुल राठौर

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY