आचार संहिता ताक पर रख किये जा रहे कार्य

0
163

election
खानपुर-गाजीपुर : सत्ता के बल पर आचार संहिता के बावजूद 3 माह पूर्व लगाया नया खरंजा उखाड़कर उसे एक भट्टे की चिमनी में प्रयोग किये जाने की सूचना मिली है। इस सम्बन्ध मे बताया गया कि क्षेत्र के रामपुर ढकवा गांव मे जहां एक अच्छी खासी नई सड़क का खरंजा उखाडवाकर उसे एक ईट भट्टा बनाने की चिमनी में प्रयोग किया जा रहा है और वह चिमनी बनकर तैयार भी हो गई है | लेकिन इसकी खबर न तो स्थानीय थाने को है और न ही प्रशासन को है, खरंजा उखाड़कर एक ईट भट्टा की चिमनी भी तैयार की जा चुकी है।

गांव वालों को यह कह दिया गया की यह ईट उखाड़कर यहां पिचकर बनाई जाएगी इस पर गांव वालों ने विरोध नहीं किया जब हकीकत मालूम हुई तो गांव वाले एकत्र होकर सपा सरकार का जमकर विरोध किये, जब की अचार संहिता लागू होने के बावजूद भी इतनी बड़ी घटना यहां पर हो रही है लेकिन इस तरफ ना ही शासन का ध्यान कभी गया और न ही प्रशासन का । सबसे मजे की बात तो यह है कि यह कृत्य कई दिनों से चल रहा है यहां पर डायल हंड्रेड की गाड़ी खड़ी होने के बावजूद भी कोई कार्यवाही नहीं हुई,

बता दें रामपुर ढकवा तहसील सैदपुर जनपद गाजीपुर में दिसंबर 2016 में नया खरंजा बना जिसे उठाकर सत्ताधारी पक्ष के बल पर ग्रामीणों को बरगलाकर खरंजा उतरवाकर अपने निजी स्वार्थ के लिए एक चिमनी बना डाली गई, लोगों ने बताया कि सत्ताधारी पक्ष को मिलाकर वर्तमान ग्राम प्रधान ने यह गैर कानूनी कार्य कर डाला क्षेत्र में इसकी जोरदार चर्चा है । लोगों ने बताया कि मामला सत्ताधारी पक्ष से जुड़ा है इसलिए ना ही शासन और ना ही प्रशासन कोई ध्यान दे रहा है

जनहित को ध्यान में रखते हुए शासन और प्रशासन से ग्रामीणों ने मांग की है कि इसकी तत्काल जांच कराई जाये
इसे तत्काल नहीं रोका गया तो मात्र 10 घंटे के अंदर पूरा खरंजा उखाड़कर मैदान साफ कर दिया जाएगा और लोगों को आने जाने में घोर असुविधा होगी।
इस घटना को लेकर गांव में जबरदस्त विरोध व्याप्त है कभी भी कोई घटना घट सकती है या सत्तापक्ष किसी भी निर्दोष को फांसा सकता है बताया गया कि इस मामले मे कुछ पत्रकारो पर भी दिक्कत आ सकती है।

रिपोर्ट–डा०विजय प्रकाश यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY