शिव सरोज आत्महत्या कांड मामले में इंसाफ की मांग को लेकर आजसू का कैंडल मार्च

0
72


धनबाद/लोयाबाद (ब्यूरो) धनबाद जिला के भूली निवासी शिव सरोज कुमार के आत्महत्या का मामला अब कोयलांचल की धरती में सुलगने लगी है। आक्रोशित लोग पुलिस की कार्यशैली से आहत होकर पुलिस को कटघरे में खड़ा करना चाह रहे हैं । इसी मामले को लेकर आजसू पार्टी ने सीबीआई द्वारा निष्पक्ष जांच व दोषी पुलिस कर्मी को 302 के तहत फांसी देने की मांग को लेकर रविवार की शाम को केण्डल मार्च निकाल क्षेत्र का भ्रमण किया। केण्डल मार्च एकड़ा से निकलकर लोयाबाद, बांसजोड़ा, सेन्द्रा आदि क्षेत्रों का भ्रमण करते हुए लोयाबाद मोड़ पहुंच सभा में तब्दील हो गया। केण्डल मार्च का नेतृत्व बिनोद पासवान के द्वारा किया गया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि आजसू के जिलाध्यक्ष मंटू महतो ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि झारखण्ड मे पुलिसीया तंत्र तानाशाह हो गया है। सरोज की मृत्यू पुलिसीया अमानविय व्यवहार का साक्षात परिणाम है। पुलिस ने सरोज को आत्महत्या के लिये बाध्य कर दिया। सरोज के मृत्यू का मुख्य कारण थाना प्रभारी व डीएसपी हैं। दोनों अधिकारीयों पर 302 का मामला दर्ज होनी चाहिये। लोकतंत्र में प्रशाषण का यह रूप जन विरोधी व अलोकतांत्रिक है। श्री महतो ने इस मामले को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि ऐसे पथभ्रष्ट प्रशासन व पुलिस पर कड़ी कार्रवाई करें, ताकि सरकार व प्रशाषन पर राज्य की जनता का विश्वास बढे। साथ ही कहा कि इस दुःख की घड़ी में आजसू पार्टी पीड़ीत परिवार के साथ है। कहा कि 10 अगस्त को पार्टी की ओर से रणधीर वर्मा चौक पर धरणा देकर मुख्यमंत्री के नाम उपायुक्त के माध्यम से एक ज्ञापन सौपी जाएगी। मौके पर राजु रवानी, जितू वर्णवाल, सुभाष महतो, रमेश रवानी, अशोक भुईयां, मनोज भुईयां, पुनीत सिंह, बालकिशोर भुईयां, डिस्को महतो, दिपक रवानी, लल्ला गुप्ता आदि शामिल थे।

रिपोर्ट – एम. के. रावत (पिंटू)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here