गरीबों की जमीन पर भू-माफिया लक्ष्मी शंकर उर्फ़ रजऊ का कब्जा, प्रशाशन लाचार

0
86


बीघापुर| उन्नाव(ब्यूरो)- ग्राम सभाओ में खाली पड़ी ग्राम सभाओ की जमीन पर कब्जा करने का सिलसिला अनवरत जारी है खाली पड़ी जमीनों पर कब्जा किसी जाति विशेष या धर्म विशेष का नही जहां जिसको मौका मिला उसने कब्जा कर रखा है इसी कब्जे दारी को लेकर आएदिन छोटे मोटे विवाद भी होते रहते है गंगा कटरी क्षेत्र में खाली पड़ी जमीनों पर कब्जे दारी कर उसमे खेती करने का सिलसिला पुराना है इसी कब्जेदारी को लेकर कई खूनी संघर्ष भी हो चुके है|

गंगा कटरी क्षेत्र में जिसकी लाठी उसी की भैंस की कहावत की तर्ज पर जमीन पर कब्जेदारी होती रही है प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद लोगो की आस जगी है कि शायद अब इस परम्परा से क्षेत्र को निजाद मिलेगी|

मुख्यमंत्री की तेवर भी अवैध कब्जेदारी को लेकर सख्त है बीघापुर थाना क्षेत्र के बदिया खेड़ा की प्रधान तेजरानी व राम शंकर रामबाबू बाबूराम विश्वनाथ ओमप्रकाश आदि ग्रामीणों ने जिलाधिकारी को दिए शिकायती पत्र में आरोप लगाया है की बदिया खेड़ा मजरा बालाकटरी में वर्ग तीन व गोचर की जमीन लगभग 60 बीघा पर निबई निवासी भूमाफिया लक्ष्मी शंकर उर्फ रजऊ पाण्डेय दुर्गा शंकर पुत्र काशी नाथ पाण्डेय व उनके साथी गंगा कटरी में अन्नाधिकार कब्जा किये हुए है |

उस जमीन पर मजरा भिखना सीमा से वन विभाग के पेड़ भी लगे है ग्रामवासी जब इस अवैध कब्जेदारी का विरोध करते है तो जान से मार देने की धमकी भी मिलती है ग्रामीणों ने वन विभाग के कर्मचारियों की भी मिली भगत का आरोप लगाया है कथित कब्जेदारों पर बीघापुर अचलगंज फतेहपुर आदि थानो में गम्भीर अपराधो के विभिन्न प्रकार के मुकदमे दर्ज है इस अवैध कब्जेदारी से ग्राम सभा वासियो को सासन सत्ता बदलने के साथ मुक्ति मिल पाएगी या नही यह तो आने वाला समय बताएगा

रिपोर्ट-मनोज सिंह
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY