पौधों को रोपने के बाद उसका संरक्षण जरूरी : जोशी

0
47


मुफ्तीगंज/जौनपुर (ब्यूरो) आज के दौर में बरसात का मौसम आते ही पौधे लगाने का एक चलन सा चल पड़ा है परन्तु मात्र पौधे राेपने या लगाने से ही धरती पर हरियाली नहीं आयेगी। पौधे लगानें के बाद उनकी देखभाल भी उतनी ही जरूरी है जितनी कि अपने घर में पैदा हुये नवजात शिशु को होती है। तब जाकर कहीं हमारा मकसद पूरा होगा।

उक्त बातें करंजाकला ब्लाक के सलाेनी महिमापुर गांव में आयोतिज वन महोत्सव के दौरान उत्तर प्रदेश सरकार की महिला व परिवार कल्याण तथा पर्यटन मंत्री तथा जौनपुर जनपद की प्रभारी श्रीमती रीता बहगुण जोशी ने समारोह में आये लोगों के समक्ष कहीं। अागे उन्होनें शिक्षकों को सम्बोधत करते हुये कहा कि वे छात्र ⁄ छात्राओ को मेहनत व लगन के साथ पूरी निष्ठा से पढायें क्योकि उनकी पार्टी की सरकार शिक्षा को लेकर बेहद गम्भीर है। उन्होने अपनी पार्टी की सरकार द्वारा 100 दिन में किये गये कार्यो को बताते हुये कहा कि पिछली सरकारों की तुलना में उनकी सरकार में अधिक तेजी से पारदर्शिता के साथ काम हो रहा है। कार्यक्रम का शुभारम्भ बतौर मुख्य अतिथि श्रीमती जोशी ने मां सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन कर के किया।

स्कूली छात्राओं ने सरस्वती वंदना तथा स्वागत गीत भी प्रस्तुत किये। गांव में श्रीमती जोशी ने पौधरोपण भी किया तथा सलोनी महिमापुर प्रथमिक विद्‍यालय के 103 तथा प्रेमापुर प्राथमिक विद्‍यालय के 50 छात्र ⁄ छात्राओं को गणवेश भी अपने हाथो से वितरित किये। कार्यक्रम के अन्त में उन्होने स्कूल चलो अभियान के रथ को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिलाधिकारी श्री सर्वज्ञराम मिश्र ने की तथा संचालन अतुल प्रकाश यादव और महेन्द्र देव ने संयुक्त रूप से किया। इस दौरान सांसद केपी सिंह और जफराबाद विधायक डा हरेन्द्र सिंह सहित जिले और ब्लाक के सभी कर्मचारी और आसपास के तमाम ग्रामीण और गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

रिपोर्ट – अमित कुमार पाण्डेय

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY