पट्टा से अलग खनन करने और नदी में पुल बनाने व पोकलेन व नाव लगाने पर मुकदमा हुआ दर्ज

0
70


सोनभद्र (ब्यूरो) कोन सोननदी में बिना अनुमति के पुल बनाने नाव से बीच धारा से बालू निकालने और श्रमिक को न लगाकर पोकलेन मशीन का प्रयोग करने व अवैध तरीके से बालू भंडारण करने पर आगरा के कम्पनी पर कोन थाने में मुकदमा दर्ज किया गया।

बता दें कि पी. एन. सी.ईफ्रोटेक लिमिटेड के निदेशक प्रदीप जैन को नगवा ब्लाक के बरहमोरी में सोननदी से बालू उठान के लिए ईटेंडरिग व्यवस्था से साइड मिली थी । लेकिन उक्त कम्पनी द्वारा चोपन ब्लाक के ग्राम पंचायत हर्रा से सोन नदी में सीमेंट की हयूम पाईप डालकर अस्थाई पुल का निर्माण करा कर नदी के बीच धारा में नाव से बालू निकाला जाने लगा और पोकलेन मशीन से बालू लोड किया जाने लगा, यही नही उक्त कम्पनी द्वारा बालू का भन्डारन भी किया जाने लगा, तो गांव वालों ने इसका विरोध भी किया लेकिन गांव वालों को धमकी देकर दबा दिया गया और जब यह खबर अखबारों की सुर्खियां बनी तो जिला प्रसाशन सजग हुआ और शुक्रवार को एस डी एम सदर विशाल यादव के नेतृत्व में मौके पर पहुच कर कम्पनी की कारगुजारी से अवगत हुआ। खान विभाग के सर्वेक्षक राजनाथ के तरफ से कम्पनी के अवैध रूप से बालू खनन,बालू का भंडारण,और बिना अनुमति नाव व पोकलेन के प्रयोग पर कोन थाने ने खान व खनिज अधिनियम(विकास व विनियम) धारा 4/21 व उत्तर प्रदेश (परिहार)निमावली 1963 के तहत धारा 3/57 के तहत कम्पनी के निदेशक प्रदीप जैन के ऊपर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करा दिया गया।

रिपोर्ट – ज़मीर अंसारी

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY