जाति धर्म के आधार पर किसी के साथ नहीं होगा भेदभाव : सुजाता सिंह

0
88

बलिया(ब्यूरो)- पुलिस अधीक्षक सुजाता सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देशानुसार समस्त क्षेत्राधिकारी और थानाध्यक्षों को ये कडे़ निर्देश देते हुए पेशेवर व संगठित अपराधों पर अंकुश लगाने का फरमान जारी किया है। उन्होंने कहा कि अवैध खनन, अवैध लकड़ी, कटान, पशु-तश्करी, शराब तश्करी और अवैध बस संचालन व अन्य प्रकार के आपत्तिजनक अपराधों पर अंकुश लगाया जाये।

सुश्री सिंह ने कहा कि पशु तश्करी, गोवध के प्रति जीरो टालरेंस की नीति अपनाई जाये। किसी भी दशा में ऐसे कार्यों से लिप्त व्यक्तियों को सफल न होने दिया जाय। उन्होंने कहा कि पेशेवर, संगठित अपराधियों का चिन्हीकरण करते हुए उनके विरूद्ध साक्ष्य एकत्र कर उनकी गतिविधियों को पूर्ण विराम देने के लिए प्रभावी विधिक कार्रवाई की जाय। ऐसा करते समय यह सुनिश्चित किया जाय कि जाति, धर्म अथवा लिंग के आधार पर किसी के साथ कोई भेदभाव न हो। उन्होंने आगे कहा कि सभी सार्वजनिक स्थलों जैसे चौराहों, मार्केट्स, मॉल्स, पार्क एवं अन्य सार्वजनिक स्थानों को असामाजिक तत्वों से मुक्त कराया जाय। विशेषकर इन सार्वजनिक स्थानों की महिलाओं, बालिकाओं के लिए सुरक्षित किया जाना सर्वोच्च प्राथमिकता का विषय है।

उन्होंने बताया कि इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए विभिन्न स्थानों द्वारा एंटी रोमियों स्क्वायड बनाये गये है। वह यह सुनिश्चित करेंगे कि स्क्वायड में उपलब्धता के अनुसार अधिक से अधिक संख्या में महिला कांस्टेबल की ड्यूटी सादे कपड़ों में लगायी जाय ताकि सही सूचना दें सकें कि किन स्थानों पर और किन शोहदों द्वारा आपत्तिजनक हरकतें की जा रही है। ऐसे चिन्हित शोहदों के विरूद्ध विधि के तहत प्रभावी कार्रवाई किया जाय।

सुश्री सिंह ने कहा कि थानों पर आने वाले शिकायतकर्ताओं के साथ सही व्यवहार एवं उनकी शिकायतों पर त्वरित विधिक कार्रवाई की जाय। प्रत्येक थाना प्रभारी का यह उत्तरदायित्व होगा कि वह अपने थानों और अधीनस्थ चौकियों में यह सुनिश्चित करें कि थानों, चौकियों पर आने वाले हर शिकायतकर्ता के साथ बिना किसी भेदभाव के उचित व्यवहार करते हुए उसकी शिकायत पर कार्रवाई की जाय।

रिपोर्ट- संतोष कुमार शर्मा 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here