करारी थाना क्षेत्र से रवाना हुवा बैजनाथ धाम के लिए कावड़ियों का जत्था

0
72

कौशाम्बी (ब्यूरो)-  बाबा बैजनाथ धाम में जलाभिषेक के लिए बुधवार को कांवड़ियों का जत्था करारी कश्बे से रवाना हुआ। भोले की भक्ति में झूमते कांवड़ियों के बोल बम के जयकारे से पूरा कस्बा गुंज रहा था ,वहीं शिवभक्तों का कस्बे में विभिन्न स्थानों पर लोगों ने स्वागत भी किया। सावन का महीना भोलेनाथ की पूजा का होता है। भक्तों का मानना है कि इस महीने के सोमवार को शिवालयों में गंगा जल का अभिषेक करने से सारे दुख मिट जाते हैं।और पाप धुल जाता है। यही कारण है सावन महीना शुरू होते ही गांव-गांव से कांवड़िया विभिन्न शिवालयों में जलाभिषेक को निकलते हैं।

कौशाम्बी और आसपास के जिलों से सबसे ज्यादा कांवड़िया जलाभिषेक के लिए बिहार स्थित बाबा बैजनाथ धाम जाते हैं। जनपद के विभिन्न हिस्सों से रोजाना कांवड़ियों का जत्था बाबा बैजनाथ धाम के लिए रवाना हो रहा है। बुधवार की सुबह भी करारी कस्बे से कांवड़िया जलाभिषेक के लिए एक जत्था रवाना हुआ। सुबह कांवड़िया संघ के जिलाध्यक्ष श्याम सुंदर केसरवानी के नेतृत्व में गेरुआ वस्त्र पहने -ऋषि जायसवाल, काकुन हेला, सोनू वर्मा, धुन्ना सरोज, छोटू चौरसिया, मुनि जायसवाल, अभिषेक, सुग्गा, राकेश विश्कर्मा, शीतल कुमार, संतोष, आदि सैकड़ों की संख्या में शिवभक्त कांधे पर कांवड़ लेकर कस्बे में जमा हुए।

प्राचीन शिव मंदिर रामलीला मैदान से बैंडबाजे के साथ उनकी टोली निकली। डीजे के साथ शिव गीतों पर नाचते-गाते और बोल बम का जयघोष करते जिस भी रास्ते से निकले, लोगों ने उनका स्वागत किया। लोगों ने उन्हें रास्ते के लिए लंच पैकेट आदि सामान भी दिया। सुरक्षा व्यवस्था के बीच करारी प्रभारी अर्जुन सिंह ने अपने हमराहियों के साथ शिव-भक्तों को रवाना किया। इस मौके पर सुरेश जायसवाल, पंकज चौरसिया, संजय जायसवाल, बच्चा केसरवानी, बाबूलाल, सारधा साहू, उमेशचंद्र, हरीश गुप्ता, मोतीलाल चौरसिया, कमलेश मिश्रा आदि लोगों ने बिदा किया।

रिपोर्ट- राजेश कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here