रिश्वत लेते हुए पकडे गए केजरीवाल सरकार के प्रिंसिपल सेक्रेटरी, सीबीआई ने लिया हिरासत में

0
284

दिल्ली- अरविंद केजरीवाल द्वारा शासित दिल्ली सरकार के अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति कल्याण विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेटरी संजय प्रताप सिंह और उनके निजी सहायक को 2.2 लाख रूपये की रिश्वत लेते हुए सीबीआई ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया है I

गौरतलब है कि संजय प्रताप सिंह 1984 बैच के आईएस अफसर है I आजकल संजय प्रताप सिंह की तैनाती दिल्ली सरकार के अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति कल्याण विभाग में प्रिंसिपल सेक्रेटरी के तौर पर है I

निजी कंपनी की शिकायत पर पकडे गए दोनों –

आईएस संजय प्रताप सिंह और उनके सहायक को दिल्ली की ही एक निजी सिक्योरिटी कंपनी की शिकायत के आधार पर गिरफ्तार किया गया है I सूत्रों के अनुसार प्राप्त खबर के आधार पर बताया जा रहा है कि दिल्ली सरकार के इस अधिकारी के खिलाफ एक निजी सिक्योरिटी एजेंसी ने सीबीआई से शिकायत की थी जिसके बाद सीबीआई ने पूरा जाल बुना और उस जाल में संजय प्रताप सिंह और उनका सहायक दोनों के दोनों एक साथ ही फँस गए I

गौरतलब है कि निजी सिक्योरिटी एजेंसी ने सीबीआई को बताया था कि दिल्ली सरकार के अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति कल्याण विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेटरी संजय प्रताप सिंह काम करने के बदले उसे रिश्वत की मांग कर रहे है I सीबीआई ने ऐसा सुनने के बाद पूरा जाल बुना जिसके तहत निजी एजेंसी के एक व्यक्ति ने आईएस अफसर के सहायक को रिश्वत देने के लिए उसके कार्यालय गये जहाँ सहायक ने एजेंसी के अधिकारी से 2.2 लाख रूपये की पूरी रकम ली और इस बीच आईएस संजय प्रताप सिंह अपने ऑफिस के बाहर गाडी में बैठकर अपने सहायक का इंतज़ार कर रहे थे I

सहायक पैसे लेकर जैसे ही संजय प्रताप सिंह के पास आया सीबीआई ने तुरंत ही दोनों को धर लिया और दोनों के दोनों रंगे हाथों पकडे गए I दिल्ली सरकार ने फ़िलहाल अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति कल्याण विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेटरी संजय प्रताप सिंह और उनके सहायक दोनों को ही सस्पेंड कर दिया है I

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

two × five =