अब तक कई बड़े मामलों में विफल रही है सीबीआई…..

0
656

व्यापम घोटाले में पिछले कुछ दिनों में सिलसिलेवार मौतों के बाद से पूरे मामले की CBI जांच की मांग जोरों से की जा रही है, देश में हर बड़े मामले में इसी तरह सीबीआई जाँच की मांग होती है पर कई मामलों में इस एजेंसी के काम – काज पर सवालिया निशान लग जाता है |

Photo credit - BBC Hindi
Photo credit – BBC Hindi

पिछले वर्षों में सीबीआई में कई ऐसे मामले सामने आये हैं जिसमे एजेंसी किसी भी संतोषजनक निष्कर्ष पर पहुचने में विफल रही है, इस एजेंसी पर सरकार के दबाव में रहकर काम करने के आरोप भी लगते रहे हैं, कोयला घोटाले की सुनवाई के समय माननीय सर्वोच्च न्यायालय ने तो यहाँ तक कह दिया  “सीबीआई पिंजरे में बंद एक तोते की तरह है”

सीबीआई की विफलताएं

बदायूं  बलात्कार और हत्या 

Photo Credit - BBC Hindi
Photo Credit – BBC Hindi

बदायूं में दो बहनों की पेड़ पर टंगी लाश मिलने के बाद बलात्कर के बाद हत्या का मामला दर्ज हुआ लेकिन सीबीआई ने अपनी जांच में खा की लडकियों का नाही बलात्कार हुआ था नाही हत्या उन्होंने खुदखुशी की थी | लड़कियों के परिवार वालों ने इस दावे को ख़ारिज करते हुए दोबारा जांच मांग की थी |

अरुषी हत्याकांड 

Photo Credit - BBC Hindi
Photo Credit – BBC Hindi

2008 में 14 वर्षीय अरुषी की हत्या की जांच के मामले में भी सीबीआई की कड़ी आलोचना हुई |

शारदा चिट फण्ड 

mamta banerji

कुछ सालों पूर्व पश्चिम बंगाल में हुए अरबों रूपये  के घोटाले की खबर सामने आई जिसके बाद से एजेंसी जांच में लगी है लेकिन अभी तक किसी नतीजे पर नही पहुंची है |

पूर्व जॉइंट डायरेक्टर शांतनु के अनुसार “इस मामले के जांच की रफ्तार इस बात पर निर्भर करती है कि प्रदेश की सीएम ममता बनर्जी केंद्र सरकार के कब और कितना करीब जाती हैं”

 

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ मुकदमा ख़ारिज

amit shah

करीब दस साल पहले गुजरात में फर्जी पुलिस मुठभेड़ में 10 मुस्लिम युवा मरे गये थे जिसमे की जांच के दौरान सीबीआई ने अमित शाह को मुख्य अभियुक्त माना था लेकिन कुछ महीनों पहले सीबीआई ने अमित शाह का नाम अबियुक्तों की सूची से ख़ारिज क्र दिया |

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

two × four =