दुकानों में सीसीटीवी कैमरे लगवायें: गोपीनाथ सोनी

0
44

रायबरेली(ब्यूरो)- व्यापारी समाज खास कर स्वर्ण व्यवसाय से जुडे व्यापारियों को अपनी दुकानों तथा दूकान के बाहर सीसीटीवी कैमरे को लगाना आवश्यक है। इससे अपराध रूकने में जहां आसानी होती है। वहीं अपराधियों को पकड़ने में सुविधा मिलती है। इसी के साथ-साथ प्रत्येक व्यापारी वर्ग को चाहिए। वह अपने यहाँ कार्यरत कर्मचारियों का वेरीफिकेशन जरूर करायें।

यह उदगार हैं पुलिस क्षेत्राधिकारी गोपीनाथ सोनी बछरावां कस्बे के व्यापारियों को सम्बोधित करते हुये व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि प्रायः देखा जाता है कि स्वर्ण व्यवसाय से जुडे व्यापारी रातों रात करोड़पती बन जाते हैं सोचने का विषय यह है कि ईमानदारी के साथ किये गये व्यवसाय में ऐसा कैसे सम्भव हो पाता है। इसलिए व्यापारियों को चाहिए कि सबसे पहले वह क्षेत्र के सम्मानित व्यवसायी है। इस बात का जरूर ध्यान रखेें। किसी से भी जेवरात खरीदने के समय यह जरूर ध्यान रखें की वह सामान कई चोरी का तो नही है। और इसका ज्ञान व्यापारियों को भाव ताव करते समय हो जाता है। श्री सोनी ने कहा कि पैसा ही सबकुछ नही है। एक बार खोई हुई प्रतिष्ठा मिल पाना सम्भव नही हो पाता है।

थानाध्यक्ष अनिल कुमार सिंह ने कहा कि उनकी पुलिस व्यापारियों को सुरक्षा देने के लिए पूरी तरह कृत संकल्पित है। परन्तु कर्मचारियों की कमी के चलते हर कदम पर पुलिस के जवान को लगा पाना सम्भव नही है। इसके लिए पुलिस तथा व्यापारी समन्वय की आवश्यकता है। व्यापारियों को भी अपनी सुरक्षा के प्रति जागरूक होना चाहिए। यदि सम्भव हो सके तो कुछ प्राईवेट सुरक्षा गार्ड भी व्यापारी लोग रख सकते है। ऐसे सुरक्षा गार्डो की जानकारी थाना में अवश्य दें। उन्होंने कहा कि अपनी दूकान के सटर में सेन्टर लाॅक जरूर लगवाये यदि हो सके तो शायरन की व्यवस्था भी करें तो ज्यादा सही होगा। व्यापारियों द्वारा अतिक्रमण की शिकायत किये जाने पर थानाध्यक्ष ने कहा कि यह अतिक्रमण छोटे बड़े व्यापारियों के द्वारा ही किया जा रहा है। व्यापार मण्डल केा चाहिए कि वह अपने स्तर से इस का समाधान करवायें।

इस अवसर पर सब इन्स्पेक्टर भईया लाल धीरेन्द्र कुमार, रामराज कुशवाहा, सुनील सागर भू मण्डल शुक्ल, ब्रजेश वर्मा, शशिकान्त मिश्रा, चन्द्र किशोर आजाद, दुर्गेश कुमार शुक्ला, रमाकान्त गुप्ता, चन्द्र प्रकाश गुप्ता, राकेश चैधरी आदि व्यापारी मौजूद रहे।

रिपोर्ट- राजेश यादव 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY