पं. सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला की 120वीं जयन्ती उनके पैतृक गांव गढ़ाकोला व अन्य शिक्षण संस्थाओ में हर्षोउल्लास

0
212

sabha
बीघापुर-उन्नाव : हिन्दी के कालजयी रचनाकार महाप्राण पं. सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला की 120वीं जयन्ती उनके पैतृक गांव गढ़ाकोला व अन्य शिक्षण संस्थाओ में हर्षोउल्लास के साथ मनायी गई। उन कार्यक्रमो में वक्ताओ ने महाकवि के व्यक्तित्व व कृतित्व से समाज व युवा पीढ़ी को सीख लेने की बात कही गयी।

पैतृक गांव गढ़ाकोला में महाकवि के आवास पर आयोजित कार्यक्रम को स्म्बोधित करते हुए वरिष्ठ साहित्यकार रामेश्वर प्रसाद द्विवेदी प्रलयंकर ने कहा कि हिन्दी में तुलसी के बाद निराला दूसरे जन कवि हैं जिन्हे साहित्य सर्जना से ही नहीं समाज की सेवाओ व संघषो के लिए जाना जाता है। उनका साहित्य भहे ही जनग्राही न हो किन्तु उनके जीवन से जुड़ी हुयी प्रेरक कथाएं उनको जीवान्त बना रही हैं। निराला शिक्षा निधि की प्रबंधक शिखा मिश्रा ने कहा कि अंग्रेजी के कवि वर्डस्वर्थ, किट्स व शेक्सपियर जैसे कवियो की जन्म स्थली में जाकर उनके साहित्य से परिचित हो जाते हैं किन्तु महाकवि के गढ़ाकोला में आकर भी निराला की स्मृतियो को पुनः उभार ने काम नहीं हो पाता है। शायद निराला राजनेताओ के लिए वोट बैंक नहीं हैं तभी उपेक्षित हैं। निराला डिग्री कालेज के उपप्रबंधक बृजकिशोर वर्मा ने कहा कि उनका जीवन और साहित्य संघर्ष स्वाभिमान की गाथा कहता है उन्होने जो जीवन जिया उसे अपने साहित्य में उतार दिया। कार्यक्रम का संचालन डीएस त्रिवेदी ने किया तथा आगनतुको के प्रति आभार निराला वंशज राजकुमार त्रिपाठी ने व्यक्त किया। अन्य प्रमुख वक्ताओ में महाप्राण महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ सुरेन्द्र सिंह, डाॅ शशि रंजना व कुलभूषण अवस्थी आदि हैं। मनोहरा महिला व महाप्राण निराला महाविद्यालय में भी जयन्ती कार्यक्रम ओयजित किये गये जिसमें छात्र छात्राओ ने भी गीत, कविता के माध्यम से महाकवि को याद किया। उपस्थित प्रमुख लोगो में पूर्णिमा अवस्थी, मनीष दीक्षित, आकाश दीपांकर, बालेन्द्र तिवारी, ज्योती द्विवेदी, वन्दना सिंह, राधारानी गुप्ता, शिवाकांत, अखिलेश, अनिल शुक्ला, देश कुमार यादव आदि है। गढ़ाकोला में निराला स्मारक समिति द्वारा गौतम दीक्षित की अध्यक्षता व रमेश तिवारी के संचालन में जयन्ती कार्यक्रम आयोजित हुआ जिसमें पूर्व विधायक कृपा शंकर सिंह, अंकित परिहार, हृदयनारायण दीक्षित, डाॅ मान सिंह, गंगाधर पटेल आदि ने विचार व्यक्त किये।

रिपोर्ट – मनोज सिंह

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here