भारत और अमेरिका की दोस्ती से घबराया चीन, कहा हमें रोककर आप नहीं बढ़ सकते आगे

0
673

बीजिंग- प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को पीएम पद संभाले हुए अभी मात्र 2 साल का ही वक्त हुआ है लेकिन इन दो सालों के भीतर ही पीएम मोदी ने अमेरिका की 4 यात्रायें की है | पीएम मोदी ने अमेरिका की 4 यात्रायें की है और अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ उनकी यह 7 वीं मुलाकात थी | ऐसे में पूरी दुनिया को इस बात का इल्म हो गया है कि भारत और अमेरिका के संबंध अब कितने गहरे हो गए है | ऐसे भारत और अमेरिका के बढ़ते रिश्तों को देखकर चीन की हालत खस्ता हो चुकी है |

इंडो-यूएस रिलेशनशिप से घबराया चीन, कहा हमें रोककर आप आगे नहीं बढ़ सकते –
भारत और अमेरिका के बढ़ते और प्रगाढ़ होते रिश्तों को देखकर चीन की हालत ख़राब हो गयी है | चीन के एक सरकारी अखबार ने लिखा है कि भारत चीन को रोककर कभी भी आगे नहीं बढ़ सकता है | चीन ने यह भी कहा है कि न भारत चीन को रोककर आगे बढ़ सकता है और न ही एक पक्ष को दूसरे के विरूद्ध करके ही भारत आगे बढ़ सकता है | पीएम मोदी कि अमेरिकी यात्राओं का उल्लेख करते हुए चीन के सरकारी दैनिक अखबार द ग्लोबल टाइम्स में छपे एक आर्टिकल में कहा गया है कि भारत और अमेरिका के रिश्ते अभूतपूर्व स्तर पर है | लेकिन चीन ने कहा है कि मात्र किसी एक पक्ष का समर्थन करने से या फिर किसी दूसरे पक्ष के विरूद्ध खेम बंदी करने से भारत का उदय नहीं हो सकता है |

चीन भारत का प्रतिद्वंदी नहीं सहयोगी देश है –
चीनी मीडिया ने भारत और यूएस की बढती गहरी दोस्ती को देखते हुए कहा है कि भारत कभी भी किसी एक पक्ष का समर्थन और दूसरे के विरूद्ध लामबंदी करके आगे नहीं बढ़ सकता है | चीनी सरकारी अखबार में यह भी कहा गया है कि चीन भारत का कोई प्रतिद्वंदी देश नहीं है, चीन भारत का एक सहयोगी देश है | चीन ने कहा है कि भारत को चीन को रोककर आगे बढ़ने की बजाये नई संभावनायें तलाश करनी चाहिए अपने पडोसी देशों के साथ आपसी विश्वास कायम करना चाहिए |

चीन से पार पाने के लिए अमेरिका कर रहा है भारत का इस्तेमाल-
चीनी मीडिया ने भारत और अमेरिकी दोस्ती को महज अमेरिका की चाल करार देते हुए कहा है कि अमेरिका चीन की ताकत को संतुलित करने और चीन से पार पाने के लिए केवल और केवल भारत इस्तेमाल कर रहा है | चीन ने कहा है कि भारत को इससे बचना चाहिए |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY