चकिया जिला संयुक्त चिकित्सालय को दलालो से मुक्त कराने के लिए स्वराज अभियान ने उपजिलाधिकारी को दिया पत्रक

0
142

चकिया/चन्दौली (ब्यूरो)-  स्वराज अभियान लगातार जिले के चकिया में बना जिला संयुक्त चिकित्सालय मे वर्तमान सीएमएस के संरक्षण मे हो रहे भ्रष्टाचार के सवाल को उठाता रहा है, आज जिला संयुक्त चिकित्सालय की स्थिति यह है कि करोडो का बजट आने के बाद भी मरीजो की स्वास्थ्य की देखभाल का समुचित प्रबंध नही है |

शासन के मंशा के विपरीत बाहर की दवा डाक्टर धडल्ले से लिख रहे हैं, यहा के डॉक्टर व कर्मचारी मरीजो से आये दिन दुर्व्यवहार करते रहते हैं। उक्त बातें शनिवार को स्वराज अभियान के नेता अजय राय ने कहीं, उन्होंने इस आशय का एक पत्रक शनिवार को उपजिलाधिकारी चकिया को भी सौपा।उन्होंने आगे कहा कि रात मे इमरजेंसी मे आने वाले मरीजो का इलाज डाक्टर की जगह कर्मचारी भी कर दिया करते है,यहा जिस मरीज से अवैध कमाई की उम्मीद नही रहती हैं उसको तुरन्त रेफर कर दिया जाता है,उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि यह सब यहा के सीएमएस के संरक्षण मे हो रहा है,उन्होंने आगे गम्भीर आरोप लगाते हुए कहा कि मरीज जिला संयुक्त चिकित्सालय मे कहा से दवा -लेंगे किस डाक्टर से इलाज करायेंगे तथा किस नर्सिगं होम मे जाना है यह सीएमएस साहब के शह पर घुम रहे दलाल तय करते है! और मरीज को बेमतलब का गम्भीर रोग दिखाकर मोटी कमीशन मिलने वाले नर्सिंग होमों मे डाक्टरों से मिल रेफर कर कमीशन ले लेते हैं !

स्वराज अभियान के नेता अजय राय ने कहा कि यह चकिया गृह मंत्री का भी गृह क्षेत्र है और यहा के लोगो के स्वास्थ्य के लिए जरुरी है एेसे सीएमएस का यहा से अविलम्ब तबादला किया हो, तथा संयुक्त चिकित्सालय को दलालो से मुक्त किया जाए, तथा डाक्टरो को बाहर से दबा लिखने पर रोक लगायी जाए, यहा और दवा उपलब्ध करायी जाए ,बहुत गम्भीर रोग न हो तो कमीशन के चक्कर में मरीजो को रेफर नही किया जाए ,मरीजो से दुर्व्यवहार करने वाले लैंब के कर्मचारियो के उपर तत्काल कार्यवाही की जायें ।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here