पुलिस के लिए चुनौती बना सेल्समैन की हत्या की गुत्थी सुलझाना

0
29

रसड़ा/ बलिया (ब्यूरो) -: बीते गुरुवार को नगरा थाना क्षेत्र के ताड़ी बाड़ा गांव इलाके में बदमाशों द्वारा सेल्समैन की गोली मारकर की गई हत्या की गुत्थी सुलझा ना पुलिस के लिए चुनौती बनता जा रहा हैl महकमा इस घटना का राजफाश करके पनप रहे जन आक्रोश को दबाने की जुगत में लगा है लेकिन घटना के 24 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं यही कारण है कि इलाकाई लोग थाना क्षेत्र में बढ़ती अपराधिक वारदातों के पीछे पुलिस की शिथिल कार्यप्रणाली को जिम्मेदार मान रहे हैंlबहरहाल ,अनुराग इण्डेन गैस एजेंसी के सेल्समैन को दिन दहाड़े हत्या व लूट को लेकर आक्रोशित ग्रामीण सेल्समैन के शव को सड़क पर रखकर शुक्रवार की सुबह सड़क पर रखकर रोड जाम की खबर मिलते ही जिला प्रशासन हलकान हो गया हैl

बलिया ज़िला के नगरा थाना क्षेत्र के ताड़ी बड़ा गाँव स्थित अनुराग इंडेन गैस एजेंसी के सेल्समैन नंदकिशोर को अज्ञात बाइक सवार दो बदमाशों ने गोली मारकर मौत कर दी और रुपयों से भरा बैग लेकर भाग निकले ।सूचना पर पहुँची पुलिस आनन-फानन में सेल्समैन के शव लेकर बलिया चली गई।जिससे ग्रामीणों में काफी आक्रोश था।पुलिस सेल्समैन की पत्नी रीता देवी के तहरीर पर हत्या व लूट का मुकदमा अज्ञात बदमाशों के विरुद्ध दर्ज कर ली।उधर पोस्टमार्टम के बाद सेल्समैन का शव शुक्रवार सुबह ज्यो ही घर पहुंचने की खबर फैलते ही सैकड़ो ग्रामीण महिला व पुरुष शव के पास इक्कठा हो गए और शव को लेकर नगरा भीमपुरा मुख्य मार्ग जाम कर दिया। पुलिसकर्मियों इन्हें मुख्य मार्ग को रोकने का प्रयास किया किन्तु आक्रोशित ग्रामीणों ने नही माने और नगरा भीमपुरा मार्ग के इंग्लिशिया गाँव के पास सड़क पर शव को रखकर पुलिस के खिलाफ आक्रोशित ग्रामीणों ने जमकर नारे बाजी करने लगे।

वाहनों का आवागमन ठप हो गया तथा दोनो तरफ लम्बी वाहनों की कतार लग गई। ग्रामीणों की जिद पर जाम की सूचना पर एडिशनल एसपी विजयपाल सिंह,सीओ रसड़ा केपी सिंह,एसडीएम बेल्थरारोड राधेश्याम,तहसीलदार रसड़ा शिवधर राम के अलावे पूर्व मंत्री घूरा राम सहित भारी पुलिसफोर्स व पीएसी मौके पर पहुँच गई।प्रशासन जाम पर बैठी महिलाओ को समझाने का प्रयास किया तो जामस्थल पर पूर्वमंत्री घूरा राम पहुँचे तो ग्रामीणों की मांग के अनुरूप मृतक की पत्नी को एजेंसी पर काम, दोनो बच्चों की पढ़ाई वाला बिटिया की शादी का खर्च वहन करने के एक लाख रुपया देने का वादा किया, वही प्रशासन द्वारा किसान बीमा दुर्घटना का लाभ देने के वादे के साथ ग्रामीणों ने चार घंटे बाद जाम समाप्त कर दिया। तब जाकर राहत की सांस ली

रिपोर्ट पिन्टू सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here