चन्द रूपयों में पुलिस के बराबर काम करनें वाले होम गार्ड़ के जवानों का शोषण बदस्तूर जारी

0
49

रायबरेली (ब्यूरो)- चन्द रूपयों में पुलिस के बराबर काम करनें वाले होम गार्ड़ के जवानों का शोषण उनके बीओ द्वारा बदस्तूर जारी है। लगभग एक वर्ष पूर्व तक बीओ की मर्जी से इन होमगार्ड़ो की ड्यूटी लगायी जाती थी और बदले में 2 हजार लिये जाते थे। सरकार नें इस भ्रष्टाचार को खत्म करनें के लिए ड्यूटी का सिस्टम कम्पयूटर से कर दिया परन्तु इससे कोई फर्क नहीं पड़ा।

इस लूट का एक उदाहरण बछरावां के वैतनिक बीओ भंवर सिंह, तथा उनके एजेण्ट के रूप में कार्य करनें वाले राजेन्द्र यादव की कार्यशैली में देखने में मिला। बगैर 2 हजार रूपये लिये किसी भी होमगार्ड़ की ड्यटी न लगाना वह अपना अधिकार समझतें है। बीओ भंवर सिंह का स्थानान्तरण सीतापुर हो गया था परन्तु अधिकारियों से साठ-गांठ कर बीमारी का बहाना बनाकर रायबरेली में ही जमंे रहें। जबकि अगर मेड़िकल कराया जाय तो पूरी तरह से स्वस्थ दिखाई पड़ेंगें। बीओ का घर भी बछरावां से 25 किलोमीटर की दूरी पर है। परन्तु अपने तिकडम के बदौलत यह सारे विभागीय नियम कायदों की धज्जियां उड़ाते हुए 1995 से 2007 तक और 2014 से आज तक बछरावां कम्पनी में ही तैनात हैं। इनकी चपरासीगीरी करनें वाले होमगार्ड राजेन्द्र यादव को उन्होंनें पुरस्कार के तौर पर पिछले तीन वर्षों से फायर स्टेशन बछरावां में तैनाती दे रखी है।

होमगार्ड़ के जवानों ने बताया कि इनके भ्रष्टाचार के सन्दर्भ में अब तक 17 प्रार्थना पत्र देकर मुख्यमंत्री से लेकर जिले के आला अधिकारियों तक गुहार लगा चुके है। परन्तु धन बल के सामनें वह लोग शोषण का शिकार हों रहें है। होमगार्ड़ के जवानों ने मांग की है कि तत्काल प्रभाव से इनका स्थान्तरण किया जाय। होमगार्ड़ो नें यह भी आरोप लगाया है कि कई जवानों को इन्होंनें निकाल दिया था आदेश के बाद भी उन्हें तैनाती नहीं दी जा रही है। बीओ से दूरभाष से हुई वार्ता में उन्होंनें बताया कि जवानों की ड्यूटी लगाना उनके हाथ में नहींे है। एनआईसी द्वारा जवानों की ड्यूटी जिला कमाडेंट द्वारा लगायी जाती है।

रिपोर्ट- राजेश यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here