धनबाद की धड़कन कहे जाने वाले चंद्रपुरा लाइन आज से हमेशा के लिए बंद

0
121


धनबाद (ब्यूरो) धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन को 15 जून से बंद करने के रेलवे बोर्ड के फैसले से देश की कोयला राजधानी धनबाद में उबाल है।14 जून की मध्य रात्रि तक ही इस मार्ग पर रेलों का परिचालन हुई। आज से इस मार्ग पर चलने वाली 26 जोड़ी ट्रेनों में से 19 जोड़ी ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है।ट्रेन रद्द होने का असर धनबाद समेत आस-पास के जिलों की बड़ी आबादी पर पड़ेगा।प्रशासन को आशंका है कि कुछ लोग इस मौके पर विधि-व्यवस्था पर खतरा उत्पन्न कर सकते हैं।ट्रेनबंदी के बाद की स्थिति को लेकर धनबाद और बोकारो जिला प्रशासन ने मुकम्मल तैयारी की है।ताकी कोई उपद्रवी आम जनता को परेशान नहीं कर सके।

बसों का किराया प्रति किमी एक रुपया
रेल मार्ग बंद होने से जनता घबराये नहीं।धनबाद से चंद्रपुरा के बीच आज से सुबह पांच बजे से 22 बसें चलेंगी. इसमें से 20 बसें धनबाद बस स्टैंड से खुल कर शक्ति चौक, कांको मठ के रास्ते चंद्रपुरा को जायेगी, जबकि दो बसें बस स्टैंड से वाया बैंक मोड़, लोयाबाद गंतव्य के लिए जायेंगी।जिसमें सभी निजी बसें होंगी।इसके लिए बस मालिकों को अस्थायी परमिट दिया गया है। यात्रियों से प्रति किलोमीटर एक रुपया किराया लिया जायेगा। अगर यात्रियों की संख्या ज्यादा हुई तो किराया भी कम किया जायेगा और बसों की संख्या भी बढ़ेगी।

डीसी ट्रेन में लोगों ने की ‘ऐतिहासिक यात्रा’
चंद्रपुरा-धनबाद के बीच चलने वाली सबसे पुरानी पैसेंजर ट्रेन डीसी में परिचालन के अंतिम दिन 14 जून को डुमरी विधायक जगरनाथ महतो सहित इस क्षेत्र के पूर्ववर्ती छात्र, सामाजिक कार्यकर्ता व पंचायत प्रतिनिधि ‘ऐतिहासिक यात्रा’ की। सुबह में सभी इस ट्रेन में सवार होकर धनबाद आए।पूर्ववर्ती छात्रों का कहना है कि उनकी स्कूल व कॉलेज की पढ़ाई इस ट्रेन के कारण हीं संभव हुई।

हुड़दंगियों से सख्ती से निबटेंगे : डीसी
धनबाद-चंद्रपुरा रेल खंड के धनबाद जिले में पड़ने वाले सभी नौ स्टेशनों पर 14 जून से धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लगा दी गयी है।किसी भी स्टेशन पर लोगों के समूह में प्रवेश करने पर रोक रहेगी. इसके साथ ही सभी स्टेशनों पर सुरक्षा के लिए जिला पुलिस, रेल पुलिस, आरपीएफ जवानों की तैनाती की गयी है। उपायुक्त ए दोड्डे ने कहा कि रेल की संपत्ति को क्षति पहुंचाने या विधि-व्यवस्था बिगाड़ने की इजाजत किसी को नहीं दी जायेगी।

रेल संपत्ति की सुरक्षा होगी : एसएसपी
एसएसपी मनोज रतन चोथे ने कहा कि डीसी रेल लाइन में पड़ने वाले सभी स्टेशनों पर जीआरपी, आरपीएफ के साथ जिला पुलिस के जवान भी तैनात किये जा रहे हैं।रेल संपत्ति की सुरक्षा के लिए अगले आदेश तक यह तैनाती होगी।लोकल थाना को भी अटैच किया जा रहा है।उन्होंने भी जनता से गुमराह नहीं होने तथा शांति बनाये रखने की अपील की।कहा कि लोकतांत्रिक तरीके से विरोध करने से किसी को रोका नहीं जायेगा।लेकिन कानून हाथ में लेने की इजाजत नहीं होगी. मौके पर रेल एसपी एचपी जनार्दनन, एडीएम (विधि-व्यवस्था) राकेश दुबे, आरपीएफ कमांडेंट विनोद कुमार, डीसीएम मो. इम्तियाज, डीओएम भी मौजूद थे।

जनहित में रेल मार्ग बंद करने का फैसला : डीसी
लोगों से धैर्य बनाये रखने की अपील करते हुए डीसी ने कहा कि यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रख कर ही केंद्र सरकार ने यह फैसला लिया है।कोशिश हो रही है कि जो ट्रेनें अभी रद्द हुई है, उन्हें भी धीरे-धीरे चलाया जाये। रेलवे भी इस मामले में लगातार प्रयासरत है।साथ ही कहा कि हुड़दंग फैलाने वालों से सख्ती से निबटा जायेगा. ऐसे कुछ लोगों की सूची भी तैयार हुई है।इनके खिलाफ धारा 107 के तहत निरोधात्मक कार्रवाई भी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here