कोटे की दुकान के चयन में धांधली पर गुस्साये ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

कुशीनगर(ब्यूरो)- विकास खंड के गांव बैरागीपट्टी में गुरुवार की दोपहर प्रधान द्वारा कोटे की दुकान के लिए ग्रामीणों के बीच अलग-अलग जगहों पर दुकान के चयन की सूचना देकर भ्रमित करने के विरोध में सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण लामबंद होकर ब्लाक मुख्यालय पहुंच अधिकारियों के समक्ष प्रदर्शन करते हुए विरोध दर्ज कराए ।

इस दौरान एसआई मोहन प्रसाद के साथ पहुंचे दर्जनों पुलिस कर्मियों ने समझा-बुझाकर ग्रामीणों को हटाया । पूर्व नियोजित कार्यक्रम के अनुसार बैरागीपट्टी गांव में गुरुवार को कोटे की दुकान का चयन होना था । आरोप है कि गांव के प्रधान इंद्राशन द्वारा कोटे की दुकान के चयन के लिए मुनादी कराकर कुछ लोगों को गांव के तीनपरसा टोला स्थित प्राथमिक विद्यालय पर सुबह 10 बजे बुलाया गया जबकि अधिकांश लोगों को कोटे की दुकान के चयन का स्थान पंचायत भवन बताया गया । गुरुवार की सुबह गांव के लोग अधिक संख्या में गांव के पंचायत भवन पर जुटे जबकि प्रधान व उनके समर्थक कोटे के दुकान के अभ्यर्थी आदित्य जायसवाल के पक्ष में जुट अधिकारियों को प्राथमिक विद्यालय तीनपरसा में बुला कर महज 68 लोगों के द्वारा दुकान के चयन का प्रयास किए ।

जानकारी होने पर गांव के आधे से अधिक लोग दुकान के चयन का विरोध किए । इसके बाद सैकड़ों की संख्या में महिला-पुरुष ग्रामीण विकास खंड खड्डा पहुंच विरोध प्रदर्शन करने लगे। ग्रामीणों की उग्र प्रदर्शन की सूचना पर थाने की पुलिस व पीआरबी पुलिस ने ग्रामीणों को समझा बुझाकर मामला शांत कराया । इस दौरान सत्यनारायण कुशवाहा, विनोद, जितेंद्र, महेंद्र, राजू, चंद्रभान, होशिला, उमेश, गणेश, शंकर, रामा, नंदू, रामू, राजमंगल, उमाशंकर, रंजीत, रामानंद, परमानन्द, शम्भू आदि सैकड़ों लोग मौजूद रहे। इस संबंध में एडीओ पंचायत मैनेजर सिंह ने बताया कि बैरागीपट्टी गांव के कोटे की दुकान के चयन के दौरान ग्रामीणों की संख्या कम होने से निरस्त कर दिया गया है । 15 दिन बाद दुकान के चयन हेतु खुली बैठक की जाएगी । गांव के लोग कार्यालय पर आए थे उनको समझा कर मामला शांत करा दिया गया है ।

रिपोर्ट- राहुल पाण्डेय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here