मुख्यमंत्री हरीश रावत के हेलीकॉप्टर को उड़ान भरने से रोका

0
203

Harish Rawat meets Sonia Gandhi

देहरादून – उत्तराखंड विधानसभा चुनाव को लेकर रविवार सुबह मुख्यमंत्री हरीश रावत के हेलीकॉप्टर को गढ़ी कैंट स्थित जीटीसी हेलीपैड से उड़ान भरनी थी, जबकि इसी हेलीकाप्टर को जॉलीग्रांट एयरपोर्ट के ऊपर से गुजरना था। इसी हवाई जोन में विभिन्न वीआईपी का मूवमेंट भी था।

कांग्रेस प्रवक्ता सुरेंद्र अग्रवाल ने आरोप लगाया कि केंद्र के इशारे पर मुख्यमंत्री हरीश रावत को उड़ान की अनुमति देने में जान बूझकर एक घंटे का विलंब किया गया। हालांकि, एटीसी निदेशक केसी मृधा ने इस आरोप को खारिज करते हुए कहा कि हेलीकॉप्टर को पांच मिनट के भीतर अनुमति दे दी गई थी।

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने स्वयं फोन पर एटीसी के अधिकारीयों को बताया की। लगभग एक घंटे से जीटीसी पर हेलीकाप्टर से उड़ने का इन्तजार करते रहे। उनके कई बार आग्रह करने पर और चुनाव आयोग को इसकी शिकायत करने की चेतावनी देने के एक घंटे बाद उनके हेलीकाप्टर के पायलट को उड़ने की अनुमति दी गई ।

इसमें पहली फ्लाइट केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की थी तो दूसरी उड़ान खुद कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी की थी। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फ्लाईट भी थी। लिहाजा एटीसी देहरादून ने पहले दिल्ली एटीसी से क्लीरियन्स ली। निदेशक मृधा ने बताया कि इस पूरी प्रक्रिया में महज पांच मिनट लगे।

वहीँ शनिवार को रुद्रप्रयाग में जिस हेलीपैड पर सीएम को उतरना था, वहां केंद्रीय मंत्री उतर गईं। मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक ने दो पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया , पहले केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को आना था। जैसे ही उनका हेलीकॉप्टर गुप्तकाशी के पास आर्यन हेलीपैड के ऊपर पहुंचा।

हेलीपैड पर तैनात पुलिस कर्मियों ने हेलीकॉप्टर को उतरने का सिग्नल दे दिया जबकि यह हेलीपैड मुख्यमंत्री के हेलीकॉप्टर उतरने के लिए आरक्षित था। सिग्नल मिलने पर पायलट ने आर्यन हेलीपैड पर ही केंद्रीय मंत्री का हेलीकॉप्टर उतार दिया। पुलिस अधीक्षक पीएन मीणा ने हेलीपैड पर तैनात कार्मिक मुख्य आरक्षी प्रदीप कुमार व आरक्षी पुष्कर सिंह को निलंबित कर दिया है।
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here