चीन ने भी मान लिया कि एनएसजी मेम्बरशिप के बेहद करीब पहुँच गया है भारत, लेकिन पाक को है खतरा

0
35668

बीजिंग- एनएसजी मामले को लेकर न्यूजीलैंड ने भारत के प्रति नर्म रुख अख्तियार कर लिया है जिसके बाद चीन काफी परेशान नजर आ रहा है और चीन पूरी दुनिया में भारत का विरोध करने वाला पाकिस्तान का समर्थन करने अकेला राष्ट्र बनता जा रहा है |

क्या कहा है चीन ने –
चीन कह रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपने हाल के विदेशी दौरों से एनएसजी मामले पर उन देशों का समर्थन हासिल कर लिया है जिन देशों ने परमाणु अप्रसार के लिए अभी तक हामी नहीं भरी थी | चीन का कहना है कि उसके बाद जो रही सही कसार बचती है वो अमेरिका ने भारत का खुला समर्थन करके पूरा कर दिया है | चीन यह भी जनता है कि रूस हमेशा से ही भारत के साथ था और आज भी वो भारत के साथ ही है यह बात रूस ने पहले ही कह दी है |

चीन ने कहा पाकिस्तान के लिए है खतरा-
चीन ने अपनी ऑफिसियल मीडिया के जरिये एक बयान में कहा है कि भारत को एनएसजी समूह में शामिल करने से पाकिस्तान के लिए बड़ा खतरा पैदा हो जाएगा | चीन ने कहा है कि भारत के इस समूह में शामिल होने के बाद भारत-पाक के बीच न्यूक्लियर बैलेंस भी बिगड़ जाएगा इतना ही नहीं पूरे साउथ एशिया का स्ट्रेटजिक बैलेंस भी बिगड़ जाएगा |

न्यूजीलैंड ने नर्म किया अपना रुख –
न्यूजीलैंड ने पहले ही भारत के प्रति अपने रुख को नर्म करते हुए कहा है कि एनएसजी मेम्बर्स को बढाने के लिए एक क्राइटेरिया होना आवश्यक है | सिर्फ किसी एक देश को शामिल करने के लिए लीक से हट कर काम नहीं होना चाहिए |

तुर्की ने भी सीधे नहीं किया भारत का विरोध –
तुर्की ने भी भारत का सीधे तौर पर विरोध नहीं किया है, लेकिन तुर्की ने यह भी कहा है कि एनएसजी मेम्बरशिप के लिए भारत और पाकिस्तान दोनों के एप्लीकेशन को सामूहिक तौर पर देखना चाहिए |

अमेरिका ने किया भारत का खुलकर समर्थन, और देशों से भी की अपील-
बता दें कि हाल ही में अपनी 5 देशों की यात्रा पर गए प्रधानमंत्री मोदी जब अमेरिका में थे तभी अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने खुलकर भारत का एनएसजी मुद्दे पर समर्थन किया था | हालाँकि अमेरिका ने पहले ही इस मामले पर भारत को अपना समर्थन दे दिया था लेकिन बाद में पीएम के दौरे के दौरान राष्ट्रपति बराक ओबामा ने खुद समूह के अन्य देशों से भी भारत को समर्थन देने की अपील की थी |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY