एक बार फिर बौखलाया चीन, उत्तराखंड में भारतीय सीमा में कर रहा है घुसपैठ की कोशिश, 5 मिनट के भीतर ही हुआ वापस

0
42646
प्रतीकात्मक फोटो  (साभार.ndtv.com)
प्रतीकात्मक फोटो (साभार.ndtv.com)

दिल्ली- भारत की बढती ताकत को देखकर चीन की बेचैनी लगातार बढती ही जा रही है जिसके चलते वैश्विक स्तर पर लगभग अकेला पड़ चुका चीन अब बिना मतलब की मूर्खतापूर्ण हरकतें करने पर उतारू हो गया है | सूत्रों के हवाले से खबर लगी है कि उत्तराखंड के चमोली जिले में हाल ही में चीनी हेलीकाप्टर ने घुसपैठ करने की कोशिश की है | बताया जा रहा है कि यह चीनी हेलीकाप्टर भारतीय सीमा में सोमवार को घुसा था और तक्रिबान 5 मिनट या फिर उससे थोडा अधिक समय तक मंडराता रहा था |

इसे भी पढ़ें- भारत ने चीनी पत्रकारों को दिया, 31 जुलाई तक देश छोड़ने आदेश

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने की घटना की पुष्टि –
उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने इस घटना की पुष्टि की है और उन्होंने न्यूज़ एजेंसी एएनआई को बताया है कि हमनें केंद्र सरकार को इस मुद्दे पर पूरी जानकारी दे दी है | उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने कहा है कि हाल ही में यह देखा गया है कि उत्तराखंड की सीमा पर चीनी सेना की हलचल आजकल कुछ अधिक ही बढ़ गई है |

इसे भी देखें – चीन को मुहतोड़ जवाब देने की तैयारी, भारत-चीन सीमा पर 100 खतरनाक तोपें तैनात

केंद्रीय गृहमंत्री ने आईटीबीपी से तलब की रिपोर्ट –
उत्तराखंड सरकार से रिपोर्ट मिलने के बाद केंद्रीय गृहराज्य मंत्री किरेन रिजेजू ने कहा है कि यह एक गंभीर मसला है और हमें यह देखना होगा कि क्या वास्तव में जान बूझकर चीनी हेलीकाप्टर ने भारतीय सीमा में प्रवेश किया था या फिर अचानक से ही ऐसी घटना हुई है | उन्होंने इस मामले पर आईटीबीपी से रिपोर्ट की मांग की है | केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा है कि एक बार रिपोर्ट आ जाय उसके बाद ही कुछ कहा जा सकेगा कि घुसपैठ हुई है या नहीं |

बता दें कि यह कोई पहली बार नहीं है जब चीनी सेना के द्वारा भारतीय सीमा में घुसपैठ की गयी है | अक्सर भारत चीन सीमा पर चीनी सैनिकों के द्वारा ऐसी गतिविधियाँ सामने आती रहती है लेकिन भारत सरकार और भारतीय सुरक्षाबलों के कड़े प्रतिरोध के बाद चीनी सैनिकों को पुनः अपने क्षेत्र में वापस जाना ही पड़ता है |
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here