चीन एक बड़ी अर्थव्यवस्था है और उसकी मंदी का असर पूरे विश्व पर पड़ेगा : रघुराम राजन

0
676

Raghuram rajan

http://bogotatrendy.wach91.com/library/chto-vhodit-v-sostav-byudzheta-domohozyaystva.html что входит в состав бюджета домохозяйства राजन ने चीन के चलते उत्पन्न आर्थिक नरमी के संबंध में कहा ‘वास्तविक आंकडों के बारे में बहुत अनिश्चितता है. आंकडों को सामने आना है. लेकिन चीन बढा देश है और वैश्विक अर्थव्यवस्था के लिए बेहद महत्वपूर्ण बन गया है. विश्व भर में कही की भी प्रतिकूल घटना का शेष दुनिया पर किसी न किसी तरह का असर होता ही है.’ उन्होंने बीबीसी से कहा ‘यह पहले वित्तीय बाजारों पर असर डालता है और फिर उसका असर व्यापार पर पडता है. इसलिए हर किसी को इसकी चिंता है. लेकिन आपको हर चीज के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराने के प्रति भी सावधान रहना चाहिए.’

рггу факультет филологии एक अन्य वैश्विक आर्थिक संकट की आशंका के बारे में पूछने पर राजन ने कहा ‘अब तक जो मैंने देखा है उसके आधार पर ऐसा मानने की कोई वजह नहीं है कि हम एक और संकट की कगार पर हैं. लेकिन हमें उन अस्थायी पहलुओं के प्रति सतर्क रहना है जो तैयार हो रहे हैं.’

http://profnasteel.com.ua/library/instruktsiya-330-rzhd.html инструкция 330 ржд राजन ने आगाह किया कि केंद्रीय बैंकों पर संकटग्रस्त अर्थव्यवस्था को दुरुस्त करने का जिम्मा भी नहीं मढा जाना चाहिए. बीबीसी वर्ल्ड न्यूज पर ‘इंडिया बिजनेस रिपोर्ट’ को दिये साक्षात्कार में भारतीय केंद्रीय बैंक के गवर्नर ने कहा कि आर्थिक समस्याओं का निदान सिर्फ सुधार के जरिए ही हो सकता है. केंद्रीय बैंकों के जरुरत से ज्यादा हस्तक्षेप में अच्छाई के बजाय बुराई ज्यादा है.