बलूचिस्तान पर मोदी के कदम से पाक के साथ चीन भी परेशान, चीन को होगा 4600 करोड़ का नुकसान

0
15888

The Prime Minister, Shri Narendra Modi addressing the Nation on the occasion of 70th Independence Day from the ramparts of Red Fort, in Delhi on August 15, 2016.

भारत के प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा बलूचिस्तान का मुद्दा उठाये जाने के बाद सिर्फ पाक ही नहीं बल्कि चीन के भी होश उड़ गए हैं, भारत और अमेरिका के बढ़ते रिश्तों से चीन पहले ही चिंतित था पर अब भारत के इस कदम से पाकिस्तान और चीन की महत्वकांक्षी परियोजना चीन-पाकिस्तान इकोनोमिक कॉरिडोर को बड़ा झटका लागले के डर से पाक और चीन दोनों की हवाइयां उड़ी हुई हैं | बलूचिस्तान के इस मुद्दे के चलते चीन को अपनी इस परियोजना से 46 बिलियन डॉलर करीब (4600 करोड़ रु.) का नुकसान हो सकता है |

भारत द्वारा बलूचिस्तान का मुद्दा उठाये जाने के बाद से चीनी विद्वान् काफी परेशान हैं, साउथ एशिया मामलों के विशेषज्ञ हू शिशेंग ने कहा कि यह मेरा निजी मत है पर मुझे लगता है कि यदि भारत अपने फैसले पर अडिग रहा और इसके चलते CPEC पर विपरीत प्रभाव पड़े तो इससे भारत और चीन के रिश्तों में तनाव पैदा होगा |

उन्होंने कहा यदि ऐसा हुआ तो चीन और पाक के एकजुट होकर भारत के खिलाफ कार्यवाही करने के अलावां कोई और विकल्प नहीं होगा, और यह काफी भयावह स्थिति होगी ऐसी स्थिति में तीनों ही देश अपनी सामाजिल और आर्थिक विकास के पथ से भटक सकते हैं | स्पष्ट रूप से कहा जाए तो भारत और चीन के रिश्तों में एक बार फिर पाक के चलते दूरियां आ सकती हैं |

उन्होंने कहा वैसे तो अभी तक चीनी विदेशमंत्रालय की ओर से इस मुद्दे पर कोई टिप्पणी नहीं आई है, लेकिन बलूचिस्तान का ग्वादर CPEC गलियारे का हब है, और इसकी सुरक्षा के लिए पाक और चीन सुरक्षा के सभी इंतजाम करेंगे |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here