चिटफंड कंपनी लगा रही है, लाखों का चूना

0
91
प्रतीकात्मक फोटो

ऊंचाहार/रायबरेली (ब्यूरो)- कम्प्यूटर सिखाने के बाद नौकरी के देने के नाम पर चिठफंड कंपनी क्षेत्र के भोली भाली युवतियों को अपने झांसे मे फंसाकर लाखो रूपये की ऐंठ चुकी है| ये सब कही और नही बल्कि कोतवाली से सौ कदम दूर नाला के निकट का मामला है। जिसकी शिकायत तीन पीडितों ने कोतवाली मे की है।

प्राप्त जानकारी के आधार पर बताया जा रहा है कि ऊंचाहार कोतवाली के सौ कदम पर गंदा नाला है जिसी नाले के पटरी से सटकर एक चिटफंड कंपनी चलायी जा रही है। जहां पर कम्प्यूटर सिखाने के बाद नौकरी के लिये प्रत्येक छात्रा को दस हजार रूपये से लेकर 50 हजार रूपये तक लिया जा रहा हालाँकि इसकी रसीद तक यहां पर छात्रों को नही दी जाती है।

इस मामले का खुलासा जब हुआ जब कोतवाली के गांव पूरे बनियन मजरे पचखरा निवासिनी अंकिता पुत्री कालिका प्रसाद, गांव हादीपुर निवासिनी प्रियंका पुत्री मेवालाल व सरिता पुत्री शीतला प्रसाद ने इसकी शिकायत कोतवाली मे की। पीडितों का आरोप है कि कुल 30 छात्राओ को यहां पर कम्प्यूटर के सिखाने के बाद 35 हजार से लेकर 150000 रूपये तक की नौकरी दिलाने के नाम पर प्रत्येक छात्रा से दस हजार रूपये से लेकर 50 हजार रूपये तक का वसूल किया गया है जिसमे प्रत्येक छात्रा को दो-दो लडकियों को यहां पर लाने के लिये दबाव बनाया जा रहा है।

पीड़ित छात्राओं ने बताया कि रसीद मांगने पर टालमटोल किया जा रहा है। यहां तक की कम्प्यूटर का शिक्षण तो दूर कम्प्यूटर सीखने तक दो माह से नही दिया जा रहा है। जिस मामले मे कोतवाली प्रभारी ने बताया कि मामला गंभीर है जिसकी विस्तृत जांच करवाया जायेगा, जिसके के बाद विभागी कार्यवाही किया जायेगा।

रिपोर्ट- अनुज मौर्य/सर्वेश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here