म.प्र. : जटाशंकर चौकी प्रभारी ने खुद को गोली मार की आत्महत्या….

0
422

प्रतीकात्मक फोटो
प्रतीकात्मक फोटो

बिजावर अनुविभाग से 15 किलोमीटर दूर स्थित जटाशंकर चौकी के प्रभारी ने बिमारी से परेशान होकर आत्महत्या कर ली, रामेश्वर टीकमगढ़ के रहने वाले थे |

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार चौकी प्रभारी रामेश्वर ने अपने ही सर्विस रिवाल्वर से खुद को गोली मार ली और एक पात्र छोड़ा है जिसमें उन्होंने आत्महत्या का कारण अपनी बीमारी को बताया है | लोगों ने बताया की श्री त्रिपाठी प्रति दिन सुबह 5 बजे घूमने जाते थे ,लेकिन आज घूमने के लिए नही निकले तो लोगो ने फोन लगाया ,और उनको पर्यटक निवास के कमरे पर देखने पहुचे तो कमरे की कुंडी अंदर से बंद थी, आवाज़ लगाने पर भी जब अन्दर से कोई जवाब नहीं आया तो इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दी गयी |

घटना की सूचना मिलते ही एसडीओपी एस. सी. दोहरे तुरंत मौके पर पहुंचे स्थानीय लोगों की मदद से खिड़की तोड़कर देखने पर लोगों ने पाया कि श्री त्रिपाठी हाँथ में रिवाल्वर लेकर अपने बिस्तर पर मृत पड़े हुए हैं | श्री तिवारी की अचानक मौत से उनसे जुड़े लोग बहुत ही दुखी हैं, यहाँ तक कि आस-पास के दुकानदारों ने उनकी मौत से आहात होकर अपनी दुकानें भी बंद कर रखी हैं |

जटाशंकर लोक न्यास के अध्यक्ष अरविन्द अग्रवाल बताते हैं कि श्री त्रिपाठी जी बहुत ही कर्तव्य परायण और ईमानदार व्यक्तित्व के धनी थे और उनके रहते जटाशंकर में कोई न शराब का सेबन करता था और न कोई अपराध ।

श्री त्रिपाठी जटाशंकर धाम में पिछले 2 वर्षों से अपनी सेवाएं दे रहे थे जिसके चलते अभी 15 अगस्त को जिले के SP और कलेक्टर ने उनका सम्मान किया था, और महाशिवरात्रि पर जटाशंकर ट्रष्ट द्वारा प्रशस्ति पत्र और सील्ड देकर त्रिपाठी जी का सम्मान किया गया था।लोगो ने बताया कि उनकी पुलिस में सेवा 2 वर्ष की और शेष रह गयी थी, श्री त्रिपाठी जी शुगर और ब्लड प्रेशर की समस्या से जूझ रहे थे ।

रिपोर्टर – दीक्षा रावत

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY