अगस्टा वेस्टलैंड हेलीकाप्टर घोटाले के बिचौलिए ने कहा, गांधी को प्रोटेक्ट करने से ही मैं बच सकूंगा

0
1003

दिल्ली- दुबई में रह रहे अगस्टा वेस्टलैंड डील के बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल ने देश के एक निजी चैनल से बातचीत में कहा है कि अगर मै सोनिया और राहुल गांधी को प्रोटेक्ट नहीं करूँगा तो मुझे भी यह पता है कि मै भी नहीं बच सकूंगा | उसने कहा है कि इसीलिए मुझे उन्हें प्रोटेक्ट करना बहुत जरुरी है | बता दें कि निजी चैनल से बातचीत में मिशेल ने यह कन्फर्म किया है कि 2008 में उसने एक लेटर में सोनिया को इस सौदे के फैसले में ‘ड्राइविंग फोर्स’ बताया था | हालांकि मिशेल ने यह भी कहा है कि वह ब्यक्तिगत रूप से सोनिया और राहुल को नहीं जानता है, उसने आगे कहा है कि डिप्लोमैट्स की लॉबिंग का मतलब यह नहीं है कि हमनें सोनिया और राहुल गांधी को रिश्वत दी थी | मिशेल ने इस बात को जोर देकर कहा है कि, “अगर मै सोनिया और राहुल गाँधी को नहीं बचाऊंगा इस मामले में तो मेरा अपना बच पाना असंभव होगा, इसलिए मेरा उन्हें प्रोटेक्ट करना लाजिमी है |”

मोदी के बारे में जो दावा किया था उस पर कायम हूँ –
मिशेल ने कहा कि, “उसने जो दावा किया था कि अपनी न्यूयार्क यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने इटली के प्रधानमंत्री से मुलाक़ात की थी और उनसे यह कहा था कि यदि इटली सरकार उन्हें अगस्टा डील से जुडी हुई जानकारी उनके साथ साझा करेंगे तो वे भारत की जेलों में बंद दोनों ही इटली के मरीन्स रिहा कर देंगे | मिशेल ने कहा है कि प्रधानमंत्री मोदी ने ऐसा इसीलिए किया था कि जिससे कि वे सोनिया गांधी और राहुल गांधी को इस मामले में फंसा सके | हालाँकि आपको बता दें कि सरकार इस मामले में साफ़ इंकार कर चुकी है कि न्यूयार्क में प्रधानमंत्री श्री मोदी और इटली के पीएम के बीच कभी कोई मुलाकात हुई भी है |

पूर्व वायुसेना चीफ से मिलने की बात की स्वीकार –
मिशेल ने निजी चैनल को दिए अपने साक्षात्कार में बताया है कि उसने गांधी परिवार या फिर तत्कालीन रक्षामंत्री से कभी कोई मुलाक़ात नहीं की है | लेकिन मिशेल ने कहा है कि उसने तत्कालीन एयरफ़ोर्स चीफ जनरल त्यागी से मुलाक़ात जरूर की थी और वो मुलाकात दिल्ली के जिमखाना क्लब में एक सोशल इवेंट में हुई थी | त्यागी से मेरी मुलाकात पावरफुल इंडस्ट्रियलिस्ट जुली त्यागी ने करवाई थी | हालांकि त्यागी ने मुझसे डील का वादा नहीं किया था | मुझे लगता है कि त्यागी को गुइडो हश्के ने एक टूल के तौर पर यूज किया | ऐसा नहीं लगता कि त्यागी का कोई अहम रोल था |

किसे दी गयी थी रिश्वत और किसे हुआ है इस मामले में सबसे बड़ा फायदा –
पूरे इंटरव्यू में इस सवाल का जवाब मिशेल ने सीधे तौर पर कुछ भी नहीं कहा है, उसने इशारों में बात करते हुए कहा है कि मै यह नहीं कह सकता हूँ कि रिश्वत नहीं दी गयी है लेकिन किसे दी गयी है इस संबंध में मै कुछ भी नहीं कह सकता हूँ | बता दें कि इस डील में 423 करोंड के रिश्वत की बात सामने आई थी और इस बड़ी रिश्वत की बता सामने आने के बाद भारत सरकार ने अगस्टा वेस्टलैंड कंपनी के साथ डील 1 जनवरी 2014 को तोड़ दी थी |

कौन है क्रिश्चियन मिशेल और डील में क्या था इसका रोल –
वीवीआईपी चॉपर डील की जांच में तीन बिचौलियों का नाम सामने आया है | कार्लो गेरोसा, गुइडो हश्के और क्रिश्चियन मिशेल | बता दें कि अगस्टा वेस्टलैंड को यह कॉन्ट्रैक्ट मिले इसके लिए इन तीनो बिचौलियों ने अहम् भूमिका निभाई थी | इन तीनों में से मिशेल के खिलाफ तो इंटरपोल ने रेड कार्नर नोटिस तक जारी कर रखा है | लेकिन आज तक न ही वो कभी इंटरपोल की पकड़ में आता है और न ही वो कभी किसी और की | बताया जा रहा है कि भारत में जब तक जांच शुरू होती उससे पहले ही उसने भारत छोड़ दिया था उसके बाद आजतक वो कभी भारत वापस ही नहीं आया | आजकल वो दुबई में रह रहा है |

मिशेल के बारे में जब जांच एजेंसियों ने जानकारी इक्कठा करना शुरू किया तो पता चला है कि क्रिश्चियन मिशेल ने 2005 से 2013 के बीच भारत का करीब 180 बार दौरा किया है | मामले की जांच कर रहे अफसरों को यह भी पता चला है कि इन 9 सालों में उसने भारत में दिल्ली के अलावा और कही की भी यात्रा नहीं की है | हर बार उसने एफआरआरओ में अभिनय त्यागी से मीटिंग का हवाला दिया | इसके अलावा अपनी फर्म मीडिया एग्जिम प्राइवेट लिमिटेड के एसोसिएट और डायरेक्टर जेबी सुब्रमण्यम से मिलने की वजह बताई | जांच एजेंसियां पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि अभिनय त्यागी का संबंध त्यागी फैमिली से तो नहीं है | बता दें कि एयरफोर्स के पूर्व चीफ एसपी त्यागी और उनके करीबी रिश्तेदार संजीव त्यागी पर घोटाले का आरोप लगा है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here