सूबे के निजाम बदल बदल गये, लेकिन अधीनस्थ कर्मचारियों का रवैया नहीं बदला

0
72

रायबरेली ब्यूरो : सलोन विकास खंड की ग्रामपंचायत सूची में राशन कार्डो के सत्यापन का कार्य चल रहा है, जिसके अन्तर्गत सत्यापनकर्ता के रूप में संग्रह अमीन अजय विक्रम सिंह को नियुक्त किया गया है | शसनादेश के अनुसार सत्यापन कर्ता को कार्ड धारकों के घर- घर जाकर सत्यापन करना है, लेकिन अजय विक्रम सिंह द्वारा शासनादेश का मजाक उड़ाते हुए सरकारी राशन की दूकान(कोटा) पर बैठ कर कोटेदार की मर्जी के अनुसार सत्यापन किया जा रहा है |

कोटेदार द्वारा ऐसे परिवारों का राशन कार्ड सत्यापित करवाया जा रहा है, जो कि सरकारी नौकरी धारक, शस्त्र धारक है, परंतु पात्र परिवारों को इसकी सूचना ही नही दी गयी | वर्तमान सूची के अनुसार अभी भी लगभग 50-60 पात्र परिवारों का राशन कार्ड सूची में नाम न होने के कारण राशन नही मिल रहा है, वहीं लगभग 50-60 अपात्र परिवारों जिनको राशन की कोई आवश्यकता नहीं है उनके नाम का राशन पूर्ति विभाग की मिली भगत से कोटेदार स्वयं डकार जाता है | इस संबंध में कइ शिकायते की जा चुकी है व जनसूचनाएं माँगी गयी व रिमाइन्डर भी भेजा जा चुका है, परंतु पूर्ति विभाग द्वारा ना तो कोइ कार्यवाही की गयी और ना ही कोइ सूचना प्रदान की गयी |
.
रिपोर्ट – योगेन्द्र प्रताप सिंह.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY