सीएम रावत को चुनाव में मिलेगी करारी हार – बहुगुणा

0
152

Vijay Bahuguna

देहरादून- पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने कहा कि उत्तराखण्ड विधानसभा चुनावों में अगर बीजेपी की सरकार बनती है तो रावत सरकार के कार्यकाल में हुए घोटालों की जांच की जाएगी। उन्होंने कहा कि तीन साल में मुख्यमंत्री हरीश रावत ने बिना बजट और बिना प्रस्ताव के इतनी घोषणाएं कर दी जिन्हें दो टर्म में भी पूरा नहीं किया जा सकता।

18 मार्च को ही बहुमत खो चुकी थी हरीश सरकार –
भाजपा मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने केंद्र में सत्ता में रहते हुए 100 से अधिक बार राज्यों में राष्ट्रपति शासन लगाया। उन्होंने कहा कि हरीश सरकार 18 मार्च को ही अपना बहुमत विधानसभा में खो चुकी थी। स्पीकर ने उन्हें बचाया। प्रदेश की जनता यह सब जानती है। इस चुनाव में हरीश कांग्रेस की करारी हार होगी।

उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग ने स्टिंग न दिखाने का जो आदेश दिया है, उसका भाजपा पूरा सम्मान करती है। क्योंकि अभी यह मामला नैनीताल हाईकोर्ट में भी चल रहा है। हरीश रावत ने कुर्सी बचाने के लिए कई समझौते किए। प्रदेश की जनता नेताओं के चरित्र, आचार व्यवहार, निष्ठा और नियत पर वोट देती है।

हरीश रावत इन चारों मानक में कहीं भी खरे नहीं उतरते। बहुगुणा ने कहा कि हरीश रावत ने तीन साल में इतनी घोषणाएं कर दी, उन्हें गिनीज बुक में शामिल कर लेना चाहिए। इनमें से वे 1फीसदी भी धरातल पर नहीं उतार सके। हरीश रावत दो जगह से चुनाव लड़ रहे हैं और दोनों ही जगह से उन्हें करारी हार मिलेगी।

इतनी घोषनाएँ हुई कि उन्हें 2 टर्म में भी पूरा नहीं किया जा सकता है –
पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने कहा कि भाजपा के सत्ता में आने पर हरीश रावत सरकार के दौरान हुए सभी घोटालों की जांच की जाएगी। उन्होंने कहा कि तीन साल में मुख्यमंत्री हरीश रावत ने बिना बजट और बिना प्रस्ताव के इतनी घोषणाएं कर दी जिन्हें दो टर्म में भी पूरा नहीं किया जा सकता।

कांग्रेस ने 100 से भी ज्यादा बार लगाया है राष्ट्रपति शासन-
भाजपा मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने केंद्र में सत्ता में रहते हुए 100 से अधिक बार राज्यों में राष्ट्रपति शासन लगाया। उन्होंने कहा कि हरीश सरकार 18 मार्च को ही अपना बहुमत विधानसभा में खो चुकी थी। स्पीकर ने उन्हें बचाया। प्रदेश की जनता यह सब जानती है। इस चुनाव में हरीश कांग्रेस की करारी हार होगी।

उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग ने स्टिंग न दिखाने का जो आदेश दिया है, उसका भाजपा पूरा सम्मान करती है। क्योंकि अभी यह मामला नैनीताल हाईकोर्ट में भी चल रहा है। हरीश रावत ने कुर्सी बचाने के लिए कई समझौते किए। प्रदेश की जनता नेताओं के चरित्र, आचार व्यवहार, निष्ठा और नियत पर वोट देती है।

हरीश रावत इन चारों मानक में कहीं भी खरे नहीं उतरते। बहुगुणा ने कहा कि हरीश रावत ने तीन साल में इतनी घोषणाएं कर दी, उन्हें गिनीज बुक में शामिल कर लेना चाहिए। इनमें से वे 10 फीसदी भी धरातल पर नहीं उतार सके। हरीश रावत दो जगह से चुनाव लड़ रहे हैं और दोनों ही जगह से उन्हें करारी हार मिलेगी।
रिपोर्ट- शादाब
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here