योगी सरकार के खिलाफ ट्वीट करने वाले IPS को सीएम ने किया सस्पेंड

0
471

लखनऊ- पिछली अखिलेश सरकार के बेहद खास माने जाने वाले उत्तर प्रदेश पुलिस के ips अफसर हिमांशु कुमार को बुधवार को उनके स्वीट के कारण यूपी की योगी सरकार ने निलंबित कर दिया है UP की सत्ता योगी आदित्यनाथ के हाथ में आने के बाद यूपी पुलिस के किसी बड़े अफसर का यह पहला निलंबन है।

अनुशासनहीनता के आरोप में हुए निलंबित-

आपको बता दें कि यूपी के इस आईपीएस अधिकारी के ऊपर अनुशासनहीनता का आरोप लगा है। तलब है कि IPS हिमांशु कुमार ने अपने ट्विटर अकाउंट पर बीते बुधवार की सुबह ट्वीट किया था उन्होंने लिखा था की उत्तर प्रदेश में वरिष्ठ अधिकारियों में यादव सरनेम वाले पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करने या फिर लाइन हाजिर करने की होड़ मची हुई है। साथ ही हिमांशु कुमार ने सवाल किया था कि आखिर क्यों डीजीपी ऑफिस अधिकारियों को जाति के नाम पर लोगों को दंडित करने के लिए मजबूर कर रहा है।

आपको बता दें कि हिमांशु के इस ट्वीट के बाद देश के राजनैतिक गलियारों में भूचाल आना तो तय ही था और यदि उस मामले आईपीएस के ऊपर कार्यवाही न की जाती तो आने वाले समय में योगी सरकार के सामने और भी बड़ी मुसीबते खड़ी हो सकती थी। यही कारण है कि हिमांशु के ऊपर अनुशासनहीनता का आरोप लगाते हुए योगी सरकार ने उन्हें सस्पेंड किया है।

बिहार में एक मुक़दमे में वांछित चल रहे है हिमांशु –
हालांकि इस मामले में यह भी बताया जा रहा है कि हिमांशु कुमार बिहार में चल रहे एक मुक़दमे में वांछित है। गौरतलब है कि उनकी पत्नी ने उनके खिलाफ दहेज़ उत्पीडन का मामला दर्ज करवा रखा है। इसी मामले में बिहार की एक कोर्ट ने हिमांशु कुमार के खिलाफ बेलेबल वारंट भी जारी कर रखा है।

प्रदेश सरकार द्वारा सस्पेंड किये जाने के बाद हिमांशु कुमार ने एक और ट्वीट किया है जिसमे उन्होंने ने कहा है कि सत्य की जीत होती है। हिमांशु कुमार को यादव परिवार का बेहद करीबी भी माना जाता है।

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here