फ्लॉप साबित हो रहा गड्ढा मुक्त अभियान

0
27

गाजीपुर (ब्यूरो) जनपद के बाराचवर ब्लाक क्षेत्र में लगातार हुई बारिश से जहां आम जन जीवन प्रभावित हो रहा है वही परसा बाराचवर तिराहीपुर मार्ग पर इस समय पैदल चलना भी खतरे से खाली नही है। सड़क के बीचो बीच लम्बे लम्बे गड्ढे हो जाने से उन गढ्ढो में बरसात का पानी भर गया है। जिसके चलते गड्ढा समझ मे नही आ रहा है । अब तक 2 दर्जन से अधिक लोग इन गड्ढों के चलते गिर कर घायल हो गये हैं, लेकिन इसके बावजूद भी लोक निर्माण विभाग ग़ाज़ीपुर किसी बड़ी दुर्घटना का इंतज़ार कर रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछले सपा सरकार में परसा तिराहीपुर मार्ग के चौड़ी करण एवम सुंदरी करण के लिए नावार्ड 21 के अंतर्गत पास किये गये इस सड़क की लम्बाई लगभग 17 किलोमीटर है। इस सड़क की लागत रु 1763.80 लाख है जिसके लिए अवमुक्त धनराशि रु 552.76 लाख है । 12 दिसम्बर 2015 से कार्य प्रारम्भ है। ठेकेदार द्वारा इस सड़क पे निर्माण कार्य शुरु भी करा दिया गया, लेकिन 19 महीना का समय बीत जाने के बावजूद भी इस मार्ग पर पूरी तरह से गिट्टी भी नहीं बिछाई जा सकी और सड़क के किनारे कार्य प्रगति का बोर्ड भी लगा दिया गया है। ठेकेदार द्वारा सड़क के किनारे कई जगहों पर तोड़कर छोड़ दिया गया है बारिश हो जाने के कारण यातायात भी प्रवाहित हो रहा है ।योगी सरकार के आ जाने के बाद भी यह सड़क विभाग के अधिकारियों तथा ठेकेदार की मिली भगत से चौपट हो गई है। योगी सरकार का गड्ढा मुक्त अभियान भी इस सड़क पर फ्लॉप साबित हो रहा है । क्षेत्रीय लोगो ने समाचार के माध्यम से इस सड़क की तरफ जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री का ध्यान आकृष्ट कराया है । जिससे सड़क के बीचों बीच जो गड्ढे हो गए हैं, उन गड्ढ़ों को तत्काल भरवाया जाए । जिससे लोगो को समस्या से निजात मिल सके । लोक निर्माण विभाग खण्ड3 के नोडल अधिकारी इंजिनियर कन्हैया झां इस सड़क के नोडल अधिकारी बनाये गए है इस सड़क के बारे में जानकारी लेने के लिए उनके नम्बर पर कई बार प्रयास किया गया लेकिन उनके नम्बर पर सम्पर्क नहीं हो पाया।

रिपोर्ट – सुनील गुप्ता

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY