सीओ ने जिला परिषद को फर्जी डीड बताकर खड़ा किया कटघरे में

0
48


धनबाद (ब्यूरो) बेकारबांध के मालिकाना हक को लेकर जिला परिषद ने फर्जी डीड उपायुक्त के समक्ष प्रस्तुत की है।मेयर चंद्रशेखर अग्रवाल ने डीड की जांच धनबाद सीओ से करावाई। जांच में यह बात सामने आई कि यह जमीन केसर-ए-हिंद की है।

मेयर शेखर अग्रवाल ने बताया कि जिस बेकारबांध की जमीन को जिला परिषद अपनी बता रहा दरअसल वह केसर-ए-हिंद की है। फर्जी डीड दिखाकर जिला परिषद ने बरगलाने की कोशिश की है।मेयर ने कहा कि हम कभी भी बेकारबांध पर मालिकाना हक का दावा नहीं करते हैं।बेकारबांध तालाब का सौंदर्यीकरण करना हमारा लक्ष्य है और हम वह कर रहे हैं।लेकिन जिला परिषद द्वारा दी गई गलत जानकारी जांच का विषय है।बेकारबांध तालाब को लेकर छिड़ी है जंग बेकारबांध तालाब को लेकर पिछले तीन माह से नगर निगम और जिला परिषद में जंग छिड़ी है।नगर निगम की ओर से तीन करोड़ खर्च कर तालाब का सौंदर्यीकरण किया जा रहा है, लेकिन जिला परिषद कर्मचारियों द्वारा निगम के इंजीनियर के साथ मारपीट करने पर यह मामला राज्य सरकार तक पहुंच गया था।जिला परिषद अध्यक्ष रोबिन गोराई ने इस मामले पर कोर्ट में मुकदमा भी दर्ज करा दिया है हालांकि निगम द्वारा सौंदर्यीकरण का काम अभी भी चल रहा है।

रिपोर्ट – गणेश कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here