ठण्ड में होने वाली बीमारियाँ और उनसे बचने के उपाय

0
80

स्वस्थ्य :- तापमान में परिवर्तन के साथ-साथ कई बीमारियाँ भी लाती है सर्दी, इससे बचने के लिए सही समय पर सही ईलाज होना आवश्यक है |

ठण्ड में होने वाली बीमारियाँ :-
1. ठंड के मौसम में सर्दी होना आम बात है, लेकिन इसका सही तरीके से ध्यान नहीं रखा गया तो यह खांसी, जुकाम और गले में खराश का कारण बन सकती है। इनसे बचने के लिए ठंडी चीजों को खाने या पीने से परहेज करें और शरीर को साफ व ठीक तरीके से ढंककर रखें। गले की खराश में नमक के गरारे करना ही अच्छा विकल्प है।

2. सर्दी के बढ़ने पर कफ या अन्य कारणों से सीने में दर्द की समस्या हो सकती है। लेकिल अगर आपको खांसी भी हो रही है तो सीने में यह दर्द जलन भी दे सकता है साथ ही सांस लेने में तकलीफ हो सकती है।

3. सर्दी के दिनों में रक्तचाप अधि‍क होने से हृदय संबंधी तकलीफें भी हो सकती है। इसके लिए भी आपको व्यायाम और सही उपचार पर ध्यान देने की जरूररत होगी।

4. यह भी ठंड के दिनों में आम बात है लेकिन इनसे बचने के लि‍ए आपको मालिश और सही व्यायाम अपनाने की जरूरत होगी। साथ ही अपने खान-पान पर भी विशेष ध्यान रखना होगा।

5. सर्दी के दिनों में आम तौर पर सांस लेने में तकलीफ हो सकती है लेकिन अस्थमा के रोगियों को इससे बहुत दिक्कत हो सकती है। ठंडी हवा या ठंडे स्थानों पर जाने से आपकी यह समस्या गंभीर हो सकती हैं। इससे बचने के तरीकों को ठीक से जान लें और दवा साथ रखें।

6. ठंड के कारण सिर में दर्द होना भी सामान्य बात है, लेकिन इससे बचने के लिए आपको ठंडी हवाओं से बचने की जरूरत होगी। इन दिनों में अपने सिर को किसी कपड़े, स्कार्फ या मफलर से ढंककर रखें ताकिे ठंडी हवा न लगे और गर्माहट बनी रहे।

7. ठंड के कारण सिर में दर्द होना भी सामान्य बात है, लेकिन इससे बचने के लिए आपको ठंडी हवाओं से बचने की जरूरत होगी। इन दिनों में अपने सिर को किसी कपड़े, स्कार्फ या मफलर से ढंककर रखें ताकिे ठंडी हवा न लगे और गर्माहट बनी रहे।

सर्दी में बीमारियों से बचने के उपाय :-
1. अदरक का तासीर गर्म होता है इसके सेवन से सर्दी में होने वाली बीमारियों से बचा जा सकता है |

2. गुड कि तासीर गर्म होती है इसका सेवन भी सर्दियों में फायदेमंद है |

3. सर्दियों में लहसुन का भी सेवन अधिक से अधिक करना चाहिए |

4. सर्दियों में जुकाम से निपटने के सुबह खली पेट तुलसी का सेवन करें |

5. हल्दी में रोग प्रतिरोधक क्षमता बहुत अधिक होती है, सर्दियों में हल्दी को दूध में मिला कर भी प्रयोग किया जाता है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here