गठबंधन से बिगड़ सकता है विभिन्न पार्टियों का समीकरण

0
122
प्रतीकात्मक
प्रतीकात्मक

सोनभद्र-ब्यूरो : जनपद के दुद्धी विधानसभा चुनाव में चुनावी रंग पकड़ने लगी है, विभिन्न दलों एवं मतदाताओ में काफी उत्साह दिख रहा है । प्रत्याशी अपने लोक लुभावने वादों से वोटरों पर अपना प्रभाव डालने के जुगाड़ में है, परंतु  मतदाताओं को क्या रास आयेगा कुछ कहा नही जा सकता। चुनाव में अपना-अपना दाव आजमा रहे प्रत्याशियों को जमीनी समस्या से सम्बंधित मुद्दो पर खरा उतरने की चुनौती होगी।

इस क्षेत्र के हर मतदाता के जेहन में बसी मूल भूत समस्याएं बिजली, पानी के साथ साथ दुद्धी को जिला बनाने की मांग भी है। परन्तु इस चुनाव में कुछ नया कर गुजरने की बात चर्चा में दिखयी दे रही है । दुद्धी विधानसभा में गठबंधन के कारण चुनाव दिलचस्प हो गया है, किसको कम आंके इसका भी मतदाता के जेहन में उहापोह की स्थिति बनी हुयी है। चुनावी अखाड़ें  में उतरे प्रत्याशियों में विजय सिंह गौड़ का दल बदल चर्चा का विषय बना हुआ है, 1980 से कांग्रेस का दामन थामने के बाद प्रथम बार विधायक बने परन्तु पार्टी में आपसी मतभेद के कारण पार्टी छोड़ दी।

इसके बाद निर्दल विधायक के रूप में भी जीत हासिल कर मतदाताओ में पकड़ बना ली थी । उसके बाद सपा फिर भाजपा का दमन थाम लिया था ।और पुनः सपा ज्वाइन करने बाद इनके मन की बात नही हुई तो हाथी पर सवार हो लिया । इससे मतदाताओं में अपने स्वार्थ के लिए पार्टी बदलने की चर्चा है , परन्तु श्री गोड़ का पूर्व का सत्ताईस साल तक विधायक तथा उसी अवधि में राज्य मंत्री रहना किसी हैरतअंगेज घटना से कम नही है । जिसका श्रेय जातिगत वोट को भी जाता है, श्री गोंड को भी 27 साल के स्थापित साम्रज्य पर भरोसा दिख रहा है। इस जातिगत वोट को बाटने के लिए विभिन्न दल इसी जाति के उमीदवार लाने में जुटे है । सपा कांग्रेस गठबंधन से अनिल गौड़ भी ब्लॉक प्रमुख की चुनाव में एकतरफा कर कुर्सी हासिल किया है ।

युवाओ का सहयोग अनिल के पक्ष में हो सकता है , वहीँ भाजपा एवं अपना दल से इस सीट पर गठबंधन के बाद प्रत्यासी हरी राम चेरो मैदान में दाव आजमाएंगे। दुद्धी बिधान सभा के ई बी एम मशीन में इस बार साईकिल और कमल निशान नही रहेगा।इसलिए बिभिन्न पार्टी के कार्यकर्ताओ को अपने पार्टी के चुनाव निशान को छोड़कर दूसरे निशान पर मत दिलवाना टेढ़ी खीर साबित होगा । और अगर ऐसा हुआ तो इससे गठबंधन का समीकरण बिगड़ लाजमी हो सकता है।

रिपोर्ट – ज़मीर अंसारी

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY