संगीत एवं ललित कला कार्यशाला का हुआ समापन, मौके पर सांस्कृतिक संध्या हुई सम्पन्न

0
96

सोनभद्र(ब्यूरो)- बीजपुर रिहंद सुपर थर्मल पावर प्रोजेक्ट के वर्तिका महिला मण्डल द्वारा आयोजित 8 दिवसीय संगीत एवं ललित कला कार्यशाला का समापन इंद्रधनुष प्रेक्षागृह में शुक्रवार की सायं रंगारंग सांस्कृतिक संध्या के साथ सम्पन्न हुआ ।

उक्त सांस्कृतिक संध्या का शुभारंभ बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित समूह महाप्रबंधक (रिहंद) एस नरेन्द्र एवं विशिष्ट अतिथि अध्यक्षा वर्तिका महिला मण्डल श्रीदेवी नरेन्द्र ने दीप प्रज्ज्वलन के साथ किया । अपने सम्बोधन में मुख्य अतिथि ने प्रस्तुति की सराहना करते हुए रविशंकर मिश्र की प्रतिभा को अतुलनीय बताया तथा कहा कि रिहंद के इतिहास में यह प्रस्तुति अविस्मरणीय रहेगी ।

महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ एनटीपीसी शक्तिनगर परिसर के निदेशक डॉ0 श्रद्धानंद ने अपने सम्बोधन के दौरान काशी विद्यापीठ के साथ एनटीपीसी का गहरा रिश्ता बताया तथा कहा कि एनटीपीसी की आवश्यकताओं के अनुरूप काशी विद्यापीठ अपने संकाय में वृद्धि करेगा ।

कार्यक्रम के दौरान महिलाओं एवं बच्चों ने अलग-अलग समूहों में सांस्कृतिक गीत एवं नृत्य की प्रस्तुति की । तत्पश्चात पं0 रविशंकर मिश्र ने कथक नृत्य की अद्भुत प्रस्तुति कर पूरे सभागार को गुंजायमान कर दिया। श्री मिश्र ने कथक नृत्य एवं घुँघरू के माध्यम से घोड़े की थाप, रिमझिम बारिश की आवाज, बादल की गर्जना आदि की प्रस्तुति कर सबका मन मोह लिया। काशी विद्यापीठ के डॉ0 आनंद कुमार श्रीवास्तव के संयोजकत्व में आयोजित उक्त कार्यशाला में पं0 रविशंकर मिश्र एवं उनकी टीम ने कथक नृत्य गायन, हारमोनियम वादन, सितार, तबला, ढोलक आदि वाद्य यंत्रों का प्रशिक्षण तथा काशी विद्यापीठ के फाइन आर्ट के विशेषज्ञ प्रशांत एवं उनके साथियों द्वारा पेंटिंग, वाल पेंटिंग, ग्लास पेंटिंग के साथ-साथ ऐश, मिट्टी से मूर्तियाँ एवं अन्य मॉडल निर्माण सिखाया । प्रेक्षागृह में बच्चों द्वारा लगाई गई, पेंटिंग तथा मूर्तिकला की प्रदर्शनी प्रमुख आकर्षण का केंद्र रही ।

कार्यक्रम का संचालन श्रीमती रश्मि चौकसे ने किया । उक्त अवसर पर महाप्रबंधक (एफ़ एम) ए के केसरी, वर्तिका महिला मण्डल की वरिष्ठ सदस्याएँ एवं पदाधिकारी उपस्थित रही।

रिपोर्ट – ज़मीर अंसारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here