खुलासा: सुरक्षा एजेंसियों की रिपोर्ट के बाद भी कांग्रेस सरकार ने नहीं की आतंकी गुरु जाकिर नाइक के खिलाफ कारवाई |

0
269

zakir

आतंकियों के गुरु कहे जाने वाले इस्लाम के विवादित प्रचारक जाकिर नाइक को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है, प्राप्त जानकारी के अनुसार जाकिर नाइक पर 2009 से देश की सुरक्षा एजेंसियों की नज़र थी, 2009 से 2014 के बीच सुरक्षा एजेंसियों ने तीन बार जाकिर नाइक की गतिविधियों को संदिग्ध बताते हुए गृहमंत्रालय को अलर्ट किया था लेकिन सरकार की तरफ से जाकिर नाइक के खिलाफ कोई कदम नहीं उठाया गया |

सुरक्षा एजेंसियों ने अपनी रिपोर्ट में जाकिर नाइक के भाषणों का जिक्र करते हुए उन्हें भड़काऊ और जहरीला बताया था और जाकिर नाइक की संस्था इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन को मिलने वाले विदेशी चंदे पर भी सवाल उठाये थे और सरकार को चंदे की संदिग्धता की जानकारी भी दी थी |

इसे भी पढ़ें – हाफ़िज़ सईद के आतंकी संगठन से जुड़े मुस्लिम धर्म प्रचारक जाकिर नाइक के तार, कार्यवाही कर सकती है मोदी सरकार

सुरक्षा एजेंसियों ने यह भी कहा था कि नाइक की संस्था को चंदा तो सामाजिक कार्यों के लिए मिलता था पर उससे धार्मिक कार्य किये जा रहे थे |

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जाकिर नाइक की संस्था को मिलने वाले चंदे की गहराई से जांच करने के आदेश दिए हैं, डॉ ज़ाकिर की संस्था इस्लाम को मानने वालों से ज़कात के रूप में पैसे देने के अपील करती है | डॉ. नाइक की संस्था को विदेशों से मिलने वाले चंदे पर रोक लगाई जाने की संभावना है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY