ठेकेदारों की मनमानी और किसान बेहाल, मैनपुरी में कुछ ऐसा ही है हाल

0
234


मैनपुरी ब्यूरो : मैनपुरी के किशनी में ठेकेदार द्वारा करोडो रुपये से बन रहे पक्के माइनर में मानकों के साथ जमकर खिलवाड़ करने का मामला सामने आया है |

सरकार द्वारा किसानों को राहत के लिए किशनी माइनर को पक्का कराये जाने का करोड़ों रूपयों का ठेका इन ठेकेदारों को दिया है, लेकिन ठेकेदार अपनी चला कर मानकों के साथ खिलवाड़ में जुटे है । जहाँ नम्बर 1 की ईट का प्रयोग होना चाहिए, वहां पीला ईट का प्रयोग हो रहा है, इतना ही नहीं बल्कि सीमेन्ट की गुणवत्ता के साथ भी खिलवाड़ हो रहा है | ठेकेदार मानकों कीअनदेखी कर धडल्ले से काम कर रहे हैं। हैरान करने वाली बात ये है कि किशनी में तहसील और आला अधिकारियों के बावजूद ठेकेदारों के हौसले इतने बढ़े हुए हैं कि वे मानकों को ताक पर रख किसानों के भविष्य से खिलवाड़ करने और अपनी जेबें भरने में जुटे हुए हैं |

ठेकोदारों की इस मनमानी पर रोक लगाने के प्रशासन तो नहीं जगा पर किशनी के एक समाजसेवी सतीश सविता जी ने जनता के साथ मिलकर घटिया सामग्री से हो रहे काम को रुकवा दिया है। काम रुकने के बाद मामले को तूल पकड़ता देख ठेकेदार लगायी गयी घटिया क़िस्म की ईंट और मसाले जल्दी-जल्दी हटवाने में जुट गए हैं । सवाल यह उठता है कि सरकार इन ठेकेदारों को ठेका देने के बाद इतिश्री कर लेती है, और ठेकेदार अधिकारीयों के साथ मिलकर धांधली शुरू कर देते हैं, और जनता हर बार बस गुहार लगाती रह जाती है |

रिपोर्ट – आशीष सक्सेना

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here