जिला परिषद क्षेत्र संख्या 29 में सरकारी राशि की खुली लूट

0
48

कुमारधुबी : एग्यारकुंड प्रखण्ड के मेढा पंचायत अंतर्गत पौराणिक और प्रचीन मंदिर(कुमारधुबी रेलवे स्टेशन के समीप) औघड़ डंगाल में जिला परिषद मद सें 15 लाख रुपया सें चारदीवारी का निर्माण घटिया सामग्री सें किया जा रहा हैं।दिनाक:-9अप्रेल 2017 को जिला परिषद सदस्य श्रीमति नीशा देवी द्वारा चारदीवारी शिलयनाश कराया गया था।जिसकी कुल राशि 14 लाख 90 हजार 500 रुपया आवंटित किया गया।नीशा देवी ने उक्क्त कार्य करने हेतु एग्यारकुण्ड प्रखण्ड के रहने वाले ठेकेदार मनोज यादव को दिया गया हैं।

कार्य प्रकलन के विपरीत किया जा रहा है।घटिया सें घटिया सामग्री का प्रयोग किया जा रहा हैं।सरिया 10 और 12 एम-एम के जगहा 6 और 8 एम-एम का लगया जा रहा हैं, सीमेंट की मात्रा 6 एक के जगहा 12 एक का भाग दिया जा रहा हैं,ईंट की गुणवत्ता घटिया कॉलिटी का लगाया जा रहा हैं हल्का सा बल प्रयोग में ईंट दो टुकड़ों में बिखर जा रहा हैं।जिसकी गुणवत्ता सें सहज अंदाजा लगाया जा सकता हैं कि निर्माण कार्य में खुला लूट चल रहा हैं बुधवार की सुबहा ठेकेदार अपने मिस्त्री के साथ उक्क्त स्थल पर कार्य करने आऐ तभी औघड़ डंगाल के महंत श्री लक्ष्मी दास ने कार्य का विरोध किया और कार्य को बंद करवा दिया।कार्य को देखकर सहज अंदाजा लगाया जा सकता हैं कि चारदीवारी निर्माण का भविष्य क्या होगा।हल्की सी हवा की झोंका के ही तस के पत्ते के तरहा यह निर्माधिन चारदीवारी ढह जाऐगा।

महंत श्री लक्ष्मी दास ने घटिया निर्माण कार्य किऐ जाने को लेकर अपनी शिकायत सांसद प्रतिनिधि संदीप चटर्जी सें मिले और निर्माण कार्यो में अनिमियता की जानकारी दिऐ।संदीप चटर्जी ने उक्क्त स्थल का निरीक्षण किया तो पाया कि सरकारी राशि का खुला लूट चल रहा हैं।सांसद प्रतिनिधि ने कहा कि इस कार्य मे घोर अनिमियता साफ उजागर हो रही हैं।मैं इस निर्माण कार्य को कड़े शब्दों में निंदा करता हूँ तथा धनबाद उपयुक्त से माँग करूँगा की इस निर्माण कार्य की उच्यस्तरीय हो तथा दोषी व्यक्ति पर कड़ी सें कड़ी कार्यवाही हो।कोई भी व्यक्ति सरकारी राशि का बंदर बाट करने के पहले सोचे चाहे ओ जिला परिषद सदस्य कियू ना हो।अगर अभिलम्भ निर्माण कार्य नही रोका गया तो मै निर्माधिन स्थल पर अनशन करने के लिए प्रतिबध्य हूँ।मौके पर साधु नवल किशोर,श्रीकंतो कर्मकार,बालक दास,काशीनाथ गिरि, रामाधार दास सहित दर्जनों साधु संत उपस्थित थे।

रिपोर्ट – संजय कुमार

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY