प्रधानमंत्री आवास योजना में आवासों के आवंटन को लेकर जमकर हो रही धांधली

मऊरानीपुर/झाॅसी (ब्यूरो)- गरीब ग्रामीणो के सर पर छत देने के लिए सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना संचालित की गयी। जिसके तहत ग्रामीण क्षेत्र के हर गरीब आवासहीन, ग्रामीणो को चिन्हित करके उनका आवास प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बनाने का लक्ष्य रखा गया। लेकिन मऊरानीपुर ब्लाॅक मे नजारा कुछ अलग ही नजर आ रहा है। ब्लाॅक के अधिकारियों, सचिवों एवं ग्राम प्रधानो की खाऊ-कमाऊ, नीति के कारण गरीबों को उनका हक नहीं मिल पा रहा है।

मऊरानीपुर ब्लाॅक के प्रधानो एवं सचिवो द्वारा खुलेआम पैसे लेकर अपात्रों के नाम आवास की सूची में दर्ज करा दिये गये। वहीं गरीब एवं पात्र व्यक्ति द्वारा पैसे की माॅग पूरी न कर पाने के कारण बिना छत के रहने केा विवश बने हैं। आश्चर्य की बात तो यह है कि प्रधान एवं सचिवो द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना में खुलेआम की जा रही रिश्वत खोरी की जानकारी ब्लाॅक कार्यालय के मुखिया को भली भाॅति होने के बाद भी आज तक कोई ठोस कार्यवाही नहीं की गयी।

सूत्रो के अनुसार प्रधान, सचिवों द्वारा की जा रही कमिशन खोरी में से ब्लाॅक के मुखिया को भी पैसा मिलता है। जबकि उक्त प्रकरण को लेकर ग्रामो के कई लोगो द्वारा तहसील मे लगने वाले समाधान दिवस के मौके पर शिकायत कर कार्यवाही करने की माॅग की गयी थी। तथा भारतीय किसान यूनियन भानू के पदाधिकारियो द्वारा धरना प्रदर्शन कर कार्यवाही करने की माॅग की गयी थी। लेकिन आज तक किसी भी ग्राम के प्रधान व सचिव तथा ब्लाॅक के अधिकारियो की जाॅच व कार्यवाही नही की गयी । जिससे साफ पता चलता है कि लूट की कमाई मे सबका हिस्सा बना हुआ है। जिस कारण नीचे से ऊपर तक के अधिकारी मौन साधे हुये है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY