संपर्क मार्ग निर्माण में जमकर हुई धांधली, ग्रामीणों में आक्रोश

0
76


रायबरेली (ब्यूरो) विकास क्षेत्र शिवगढ में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत भवानीगढ से सूरजपुर सम्पर्क मार्ग 7 किलोमीटर 3 करोड़ 87 लाख रुपए की लागत से निमार्ण कार्य विगत दस माह से चल रहा है। मार्ग के निर्माण में ग्रामीणों ने खराब सामग्री तथा बंदरबांट का आरोप लगाया है। ग्रामीणों के शिकायत करने पर कई बार जांच भी हुई लेकिन शिकायतों पर कोई कारगर कार्रवाई नहीं दिखाई पड़ रही है। जिससे ग्रामीणों में आक्रोश है।

विकास क्षेत्र शिवगढ में प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत 7 किलोमीटर लम्बे भवानीगढ सूरजपुर मार्ग का निर्माण कार्य चल रहा है जिसमे नाली में पीले ईट लगाये जाने की शिकायत की गयी है। बैती बाजार और देहली कस्बे में इस सड़क पर पिछले दस माह से सिर्फ बोल्डर ही पड़े है। सबसे बड़ी मुश्किल इसी सम्पर्क मार्ग पर स्थित शिवगढ ड्रेन का निर्माण बैंती मे इसी विभाग द्वारा कराया जा रहा है। इस मार्ग के कुछ हिस्से पर थोड़े से भाग में ईट का खंडजा लगाया गया है। शेष में मिट्टी डाल दी गयी है। जिसके चलते थोड़ी सी बरसात में ही बाईपास पुल टापू बन गया है। आलम यह है कि बुधवार से ही आवागमन बाधित है बच्चे स्कूल भी नहीं जा पा रहे हैं। इसको लेकर शासन प्रशासन के खिलाफ लोगो में आक्रोश व्याप्त है।

ग्राम प्रधान जानकी शरण जायसवाल, पवन बाजपेयी, हरगोविंद मौर्य, प्रशांत मिश्र, अतुल सिंह आदि लोगों का कहना है कि सड़क निर्माण में धांधली हो रही है। सबसे बडी समस्या तो पुल निर्माण के दौरान आवागमन के लिए बनाया गया बाईपास पुल जो टापू बन गया है। दो दिन से आवागमन बंद है। यदि बाईपास सही बना होता तो आवागमन बाधित न होता। संबंधित जेई निरंजन सिंह का कहना है कि बाई पास से बरसात के कारण आवागमन बाधित है। इसे जल्द ही ठीक कराया जाऐगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here