सांठ-गांठ के चलते शौचालयों में मानकों की उड़ाई जा रही धज्जियाँ

0
127


पुरवा/उन्नाव(ब्यूरो)- ग्राम प्रधान व पंचायत मंन्त्री की साठ गाठ से ग्राम सभा मे बनने वाले शौचालयों के निर्माण मे मानको की धज्जियां उडाई जा रही है, वही धन का बन्दरबाट किये जाने का मामला तूल पकडता जा रहा है, ग्रामीणो ने उच्चाधिकारियो से तकनीकी जांच कराये जाने की मांग की है।

प्राप्त विवरण के अनुसार मामला विकास खण्ड हिलौली की ग्राम सभा पिडुरी से सम्बन्धित है जहा केन्द्र सरकार द्वारा स्वच्छ भारत अभियान के तहत ग्राम सभा मे 100 शौचालयो का निर्माण कराया जाना था जिसमे 94 शौचालय कागज पर पूर्ण दिखा दिये गये जब कि शेष 6 शौचालय के मात्र गडढो की खोदाई ही हुई है जब पिडुरी ग्राम सभा के ग्राम पंचायत विकास अधिकारी धमेन्द्र श्रीवास्तव एवं ग्राम प्रधान अनीता वर्मा ने बिना शौचालय निर्माण कार्य पूर्ण हुए ही आवण्टित धन निकाल लिया और ठेकेदारी से शौचालयों का निर्माण कराना शुरू कर दिया परन्तु अभी तक किसी भी शौचालय में सीट नही बिठाई गयी न ही किसी की छत डाली गयी ग्रामीणों के अनुसार शौचालय निर्माण में निम्न कोटि के मसाले से चुनाई करायी गयी है कोई भी शौचालय पूर्ण नही शौचालयों का आया धन बन्दरबांट की भेंट चढ़ गया प्रधान अनीता वर्मा के पति बृजभान वर्मा जनपद बहराइच के सिंचाई विभाग में नौकरी करते है प्रधान अधिकांश अपने पति के साथ बहराइच रहती है।

इस तरह पंचायत मंत्री की सांठ गांठ से आया सरकारी धन का सही उपयोग न कर दुरूपयोग किया गया ऐसे में यदि किसी समाजिक कार्यकर्ता ने विरोध करने का साहस किया तो उसे अपमानित भी किया जाता है वही ग्रामीण राज किशोर, किशनलाल, गंगादीन, शिवबहादुर, दिनेश कुमार, रामू आदि लोगों के शौचालयों का धन भी निकाल लिया गया परन्तु अब तक शौचालयों का निर्माण नही हुआ वही साथ ही ग्राम पंचायत मंत्री पर आरोप लगाया की गांव बहुत कम आते है जहां ग्रामीणों ने उच्चाधिकारियों को पत्र भेज कर शौचालयों की जांच कराये जाने की मांग की है जानकारी में आया है 6 हजार पहले और 6 हजार बाद में जिसमें दूसरी किस्त लाभार्थी के खाते में शासन द्वारा भेजा जाता है।

रिपोर्ट- मो. अहमद चुनई

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY