उलटी गिनती शुरू, अगले 48 घंटे के बाद अन्तरिक्ष के क्षेत्र में विश्व कीर्तिमान स्थापित करेगा भारत |

0
46860

pslv

भारतीय अन्तरिक्ष अनुसन्धान केंद्र ने उपगृह प्रक्षेपण के क्षेत्र में इतिहास रचने की अपनी तैयारी पूरी कर ली है, 22 जून-2016 को एक साथ 22 उपगृह प्रक्षेपित करके भारत इस क्षेत्र में नया कीर्तिमान स्थापित करेगा |

आंध्र प्रदेश के श्री हरीकोटा के सतीश धवन अन्तरिक्ष केंद्र से 22 जून-2016 को होने वाले इस प्रक्षेपण की उलटी गिनती आज सुबह 9:26 से शुरू हो गयी है | 22 जून-2016 को ठीक इसी समय भारत एक ही रॉकेट से एक साथ 22 उपग्रह प्रक्षेपित करके विश्व स्तर पर अपनी क्षमताओं को प्रमाणित कर देगा |

इसे भी पढ़ें…. ISRO ने लांच किया स्वदेशी स्पेश शटल

इन उग्रहों के प्रक्षेपण के लिए पोलर सेटेलाइट लांच व्हीकल पीएसएलवी-सी34 का इस्तेमाल करेगा | इन 22 उपग्रहों में से 3 भारत के हैं जबकि बाकी अमेरिका, इंडोनेशिया और कनाडा के है, इन उपग्रहों के प्रक्षेपण के लिए रियूजेबल लांच व्हीकल का प्रयोग किया जायेगा |

गौरतलब है कि आज विश्व के अधिकतर देश सेटेलाइट लांच के लिए भारत का रुख कर रहे हैं, सेटेलाइट लॉचिंग की भारतीय तकनीकि दुनिया के किसी भी अन्य देश से सस्ती और विश्वसनीय है | भारतीय सेटेलाइट लांचिंग में मात्र 7 रूपये प्रति किलोमीटर का खर्च आता है जो कि किसी भी अन्य देश की तुलना में काफी कम है, और इस वजह से सेटेलाइट लॉचिंग में भारत विश्व का केंद्र बन गया है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY