अपहरण के मामले में क्षेत्राधिकारी से कोर्ट ने मांगा जवाब

0
44

सुलतानपुर (ब्यूरो) 17 वर्ष पूर्व अपहृत हुई महिला का सुराग अभी तक पुलिस नहीं लगा सकी है। इस संबंध में पड़ी माॅनीटरिंग अर्जी में सुनवाई के पश्चात एसीजेएम पंचम अनुराग कुरील ने क्राइम ब्रांच सेल से आख्या मांगी। जिसमें करीब तीन वर्ष पूर्व ही विवेचना पूरी कर रिपोर्ट क्षेत्राधिकारी नगर कार्यालय में प्रेषित कर देने का जवाब दिया गया है। फिलहाल तीन वर्षों से अब तक क्षेत्राधिकारी कार्यालय से विवेचना रिपोर्ट कोर्ट नहीं पहुंच सकी। जिसके संबंध में अदालत ने आगामी 17 अगस्त के लिए क्षेत्राधिकारी नगर से जवाब-तलब किया है।

मालूम हो कि कूरेभार थानाक्षेत्र के बरजी गांव निवासी देवमणि मिश्र की पत्नी राजलक्ष्मी का 15 अक्टूबर वर्ष 2000 को हुए अपहरण के आरोप में आरोपीगण प्रेमा देवी, हरिवंश उर्फ हवलदार व राजदेव शुक्ल के खिलाफ वर्ष 2008 मे काफी जद्दोजहद के बाद अपहरण कर गायब करा देने के संबंध में मुकदमा दर्ज किया गया। जिसकी विवेचना कूरेभार से हटाकर क्राइम ब्रांच सेल को सौंप दी गई।पर यहाँ भी विवेचना में खेल हुआ। जिसमें पुलिसिया कार्यशैली को लेकर एसीजेएम पंचम की अदालत में सुनवाई के लिए मॉनिटरिंग अर्जी पड़ी है।जिस पर सुनवाई के पश्चात पुलिस विभाग की लगातार लापरवाही को देखते हुए न्यायाधीश अनुराग कुरील ने सीओ नगर से जवाब तलब किया है।

रिपोर्ट – संतोष यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here