नरेंद्र मोदी को मारने की थी साजिश, साजिश में शामिल आतंकी को कोर्ट ने सुनाई सजा |

0
8089
abu-jundal-
Image Courtesy – NDTV

26/11 हमले में शामिल 10 फिदायीन आतंकियों को हिंदी सिखाने वाले और अहमदाबाद में आर्म्स एक्ट के तहत चल रहे केस का सामना कर रहे आतंकी अबू जुन्दाल सहित मामले में शामिल 11 अन्य आतंकियों को कोर्ट ने दोषी करार दिया है |

इन आरोपियों में इस्लामिक गुरु जाकिर नाइक के इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन का कर्मचारी फ़िरोज़ देश्ख और पिछले सप्ताह IS से लिंक और धर्मपरिवर्तन के मामले में गिरफ्तार हुआ अर्शीद कुरैशी भी शामिल है |

इस पूरे मामले में कोर्ट के सामने जो दलीलें और सबूत पेश किए गए उनके आधार पर कोर्ट ने माना कि हमले के लिए हथियार पाकिस्तान से लाए गए थे, साथ ही यह भी माना कि आरोपी इन हथियारों के जरिए गोधरा दंगों का बदला लेना चाहते थे और नरेंद्र मोदी तथा तोगड़िया की हत्या कि योजना बना रहे थे |

औरंगाबाद आर्म्स एक्ट मामले में कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए कहा “यह साबित होता है कि आरोपी इन हथियारों के जरिये शांति भंग करना चाहते थे, साथ ही नरेंद्र मोदी और नरेंद्र तोगड़िया को मारने की योजना बना रहे थे |

आपको बतादें कि जुन्दाल को गिरफ्तारी के बाद सऊदी अरब से भारत डिपोर्ट किया गया था, जहां पहले NIA इसे अपनी कस्टडी में लिया और इसपर केस चलाया, फिर 26/11 केस में मुंबई क्राइम ब्रांच ने इस पर एक और केस दाखिल किया |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY