राजकीय चिन्ह की कूट रचना प्रकरण मे कानपुर पुलिस को कोर्ट की फटकार

0
149


कानपुर नगर : एडवोकेट विशाल शर्मा द्वारा मा0 न्यायालय विशेष मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट कानपुर नगर के यहां प्रार्थनापत्र देकर थाना कर्नलगंज से अख्या प्राप्त करने हेतु प्रार्थनापत्र दिनांक 20 फरवरी 2017 को दिया गया था, जिसमें न्यायालय द्वारा जवाब देने हेतु 25 फरवरी 2017 तारीख नियत की गयी थी। कर्नलगंज थाने के चुन्नीगंज चौकी इचार्ज सुमित सिंह चौहान द्वारा अपनी आख्या में न्यायालय को अवगत कराया गया था कि गहनता पूर्वक जांच की गयी। प्रार्थनपत्र के साथ संलग्न जिला मजिस्ट्रेट कानपुर नगर द्वारा करायी गयी जांच रिपोर्ट से पूर्णतः स्पष्ट हो गया कि ज्ञान निकेतन स्कूल शास्त्री नगर कानपुर के प्रबन्ध, मालिकों, निर्देशकों एवं प्रधानाध्यापक आदि के द्वारा सरकार जांच में सरकारी दस्तावेजों में जालसाजी व कूट रचना करके सरकार उच्च अधिकारियों के जाली कूटरचित हस्ताक्षर बनाकर सरकारी दस्तावेजों में राजकीय चिन्ह की कूट रचना करके अत्यन्त गंभीर संज्ञेय अपराध कारित किया है। सरकारी दस्तावेजों में राजकीय चिन्ह की कूट रचना अत्यन्त गंभीर संज्ञेय अपराध की श्रेणी में आता है, इस सम्बन्ध में थाना हाजा पर आज दिनांक तक कोई भी अभियोग पंजीकृत नही है यह आख्या देखते ही मा. न्यायालय ने सम्बन्धित चौकी इंचार्ज को नोटिस जारी करते हुए अपने आदेश में कहा कि इस प्रकार आपकी आख्या उपरोक्त के अवलोकन से स्पष्ट है कि मामले में आपके द्वारा प्रार्थी के प्रार्थनापत्र में वर्णित घटना का घटित होना दर्शाया गया है तथा ममाले में अत्यन्त गंभीर तथा संज्ञेय अपराध को कारित किये जाने सम्बन्धित आख्या दी गयी है, बावजूद इसके प्रार्थी के प्रार्थनापत्र में विर्णत घटना के सापेक्ष में अभियोग क्यों व किन कारणो से दर्ज नही किया गया है। आदेशित किया गया कि चौकी इंचार्ज अपनी आख्या दिनांकित 25 फरवरी 2017 के सम्बन्ध में लिखत स्पष्टीकरण 3 मार्च 2017 तक प्रस्तुत करें, कि इतने गंभीर मामले में प्रार्थी की रिपोर्ट क्यों नही लिखी गयी, जबकि चौकी इंचार्ज के द्वारा अपनी आख्या में अत्यन्त गंभीर एवं संज्ञेय अपराध का कारित होना दर्शाया गया है। न्यायालय ने नगर के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों एसएसपी, डीआईजी एवं आईजी कानपुर नगर को भी अपने आदेश की छायाप्रति आवश्यक कार्यवाही हेतु भेजने के आदेश पारित किये है।

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here