दिल्‍ली स्थित रेस कोर्स मेट्रो स्‍टेशन पर अब क्राफ्ट मैप्स का स्‍थायी प्रदर्शन

0
206

http://edaanjouan.com/library/gde-zakazat-nakleyki-gsvg.html где заказать наклейки гсвг race course

вязаные куртки спицами со схемами भारत के कारीगरों के लिए 1 अक्‍टूबर, 2015 की खास अहमियत रहेगी। माननीय कपड़ा राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) श्री संतोष कुमार गंगवार द्वारा नई दिल्‍ली स्थित रेस कोर्स रोड मेट्रो स्‍टेशन पर क्राफ्ट मैप्स की अनोखी आर्ट गैलरी का उद्घाटन किया गया, जिसमें देश भर में फैले शिल्‍प उत्‍पादन एवं विपणन क्षेत्रों को दर्शाया गया है।

http://dverimp.ru/priority/schet-na-oplatu-avansa.html счет на оплату аванса यहां दर्शाए गए भारत के बड़े आकार के 48 कलात्‍मक क्राफ्ट मैप्स एकजुट होकर हर राज्‍य को कवर करते हैं। भारत के लिए एक नक्‍शा (मैप) है। इसी तरह एनसीआर, दिल्‍ली के लिए भी एक अन्‍य नक्‍शा है। इनकी परिकल्‍पना और सृजन दस्‍तकारी हाट समिति‍ ने वर्ष 1994-2010 के दौरान किया था, जो भारत के शिल्‍पकारों का एक राष्‍ट्रीय संगठन है।

карта сбербанка лимит снятия наличных в месяц इन नक्‍शों में संबंधित राज्‍यों के शिल्‍प और वस्‍त्र के साथ-साथ शिल्‍पकारों और संबंधित कला स्‍वरूपों से जुड़ी सूचनाओं को भी दर्शाया गया है। परंपरागत कला स्‍वरूपों को नई रोशनी में ढाला गया है। इस तरह परंपरागत कला की गतिशील प्रकृति की ओर ध्‍यान दिलाया गया है। पहली बार इन कला स्‍वरूपों को नक्‍शों में दर्शाया गया है। उदाहरण के लिए, हरियाणा के टेराकोटा कलाकार कौशल्‍य वर्मा, मंजू झांगडा और गीता झांगडा ने टेराकोटा स्‍टार से बना नक्‍शा तैयार करने के लिए अपने परंपरागत कौशल का इस्‍तेमाल किया है।

निर्यातक और एनजीओ विभिन्‍न शिल्‍प के बारे में पता लगाकर उन्‍हें हासिल करने, विपणन करने और डिजाइन के विकास के लिए क्राफ्ट मैप्स का इस्‍तेमाल करते रहे हैं। इन नक्‍शों से कई अज्ञात क्षेत्रों और शिल्‍पों को बढ़ावा देने में मदद मिली है। क्राफ्ट मैप्स दुनिया के अनेक हिस्‍सों में पहुंच चुके हैं।

http://petroframe.ru/library/karti-na-telefon-samsung.html карты на телефон самсунг Source – PIB