जनपद में बढ़ा अपराध का ग्राफ, कानून व्यवस्था को लेकर उठने लगे सवाल

0
214


बलिया ब्यूरो : बहुआरा के प्रधान प्रतिनिधि, पूर्व प्रधान व सपा के वरिष्ठ नेता सुमेर सिंह की रविवार की शाम अपराधियों द्वारा जिस तरह गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई और उसके बाद के व्यवहार देखकर क्षेत्र का हर आदमी मान चुका है कि यहाँ कोई सुरक्षित नहीं है और पुलिस को किसी की सुरक्षा से कोई लेना देना नही है।

बहुआरा के लोगों का कहना है कि सुमेर सिंह की हत्या के तत्काल बाद ग्रामीणों ने दर्जनों बार पुलिस अधीक्षक सुजाता सिंह व बैरिया सीओ टीएन दुबे के सरकारी मोबाइल नंबर पर फोन किया किंतु दोनों अधिकारियों ने फोन रिसीव नहीं किया। वही दोकटी थाने का सरकारी मोबाइल का स्विच बन्द था। वही घटना स्थल से महज 200 मीटर की दूरी पर अवस्थित  लालगंज पुलिस चौकी के चौकी इंचार्ज व सिपाही घटना स्थल पर घटना के लगभग डेढ़ घंटे बाद पहुँचे, जिन्हें आक्रोशित ग्रामीणों ने दौड़ा लिया जिससे सिपाही व दरोगा बैरंग भाग खड़े हुए। लोगो का कहना है कि नीचे से ऊपर तक कोई भी पुलिस अधिकारी जब जनता का फोन रिसीव करने को तैयार है तो ऐसे में योगी सरकार के मंशा के अनुरूप अपराध पर कैसे नियंत्रण होगा ,यह तो योगी जी बता सकते हैं या भगवान।

इस बीच देर रविवार की रात विधायक सुरेंद्र सिंह के समझाने बुझाने पर ग्रामीणों ने पोस्टमार्टम के लिए शव को पुलिस को सौपा , रात में ही पोस्टमार्टम के बाद तड़के सुबह सुमेर सिंह का शव उनके गांव बहुआरा पहुचा। जहाँ क्षेत्र के हजारों लोगों की उपस्थिति में उनकी अंत्योष्टि सती घाट बहुआरा के गंगा तट पर कर दिया गया।

सपा नेता की हत्या में चार नामजद
सपा नेता व बहुआरा के प्रधानप्रतिनिधि सुमेर सिंह की रविवार को हुई निर्मम हत्या में सुमेर सिंह के पुत्र अमित सिंह की तहरीर पर बहुआरा के ही चार लोगों के विरुद्ध धारा 302 के तहत पुलिस द्वारा मामला पंजीकृत किया गया है। थानाध्यक्ष विजय सिंह के अनुसार इस प्रकरण में अब तक किसी की गिरफ्तारी नही हुई हैं।

सांसदों व विधायक ने व्यक्त कि संवेदना
सपा नेता व बहुआरा के प्रधान प्रतिनिधि सुमेर सिंह की हुई निर्मम हत्या की सूचना पर भाजपा सांसद भरत सिंह ,सपा सांसद नीरज शेखर, विधायक सुरेंद्र सिंह, कांग्रेस नेता सीबी मिश्र ,निर्मल कुमार उपाध्याय सहित दर्जनों नेताओं ने सोमवार की सुबह बहुआरा पहुचें, मृतक के परिजनों से मिले और शोक संवेदना व्यक्त की। उक्त नेताओं ने आरोपियों को तत्काल गिरफ्तारी की मांग की।

सपा नेता का गांव पहुंचा शव, उमड़ा हुजूम
सपा नेता सुमेर सिंह की शव पोस्टमार्टम होने के बाद गांव आते हैं लोगों का हुजूम टूट पड़ा हर कोई के यही था जुबान पर यही था कि ऐसे लोकप्रिय नेता कि इस तरह की निर्मम हत्या करना अत्यंत ही कष्टदायक है पुलिस प्रशासन भुवाल छपरा चट्टी से गंगातट सती घाट तक चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात थे जहां अंतिम दर्शन के लिए हजारों की संख्या में लोग मौजूद थे।

रिपोर्ट : सन्तोष कुमार शर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here