माघी पुर्णिमा के पावन तिथि को बाबा बासुकीनाथ पर लगा रहा भक्तों का जमावड़ा

0
697

basukinath
बासुकीनाथ : शुक्रवार के दिन माघी पुर्णिमा के पावन तिथि को बाबा बासुकीनाथ ( फौजदारी दरबार) के पवित्र धाम में भोले नीलकंठ त्रिशूल वाले बसहा वाले जटा वाले चांद वाले बाग छाला वाले भांग वाले भूत वाले भोले के भक्तों का दिन भर जमावड़ा लगा रहा सूरज की पहली लालीमा (किरण) निकलने के पूर्व से ही श्रद्धालु लंबी लंबी कतार बनाकर देवों के देव महादेव के दर्शन के लिए खड़े थे और संपूर्ण मंदिर परिसर बोल बम और हर हर महादेव के नारे से गुंजायमान हो रहा था मंदिर प्रांगण सवेरे से ही खचाखच शिव भक्तों से भरा रहा जिधर देखो उधर ही सिर्फ भोले के भक्त ही नजर आ रहे थे |

इस पावन अवसर पर सुदूर ग्रामीण इलाके से लेकर आस-पास के राज्य बिहार पश्चिम बंगाल के श्रद्धालुओं ने फौजदारी नाथ के आगे शीश नवाया वहीं झारखंड के भी प्रायः जिला से भक्तगण बाबा फौजदारी के दरबार में शीश नवाने पहुंचे थे और बाबा भोले से मन्नत मांगी औऱ पुरी आत्मविश्वास से लबरेज बाबा के भक्त डंके की चोट पर यह कहते देखे जा रहे थे की इनके दरबार में पूजा मात्र से ही अद्भुत अलौकिक सुख मिलता है वहीं इस मौके पर किसी अप्रिय घटना से बचने के लिए प्रशासन द्वारा पूरी सुरक्षा का इंतजाम किया गया था सुरक्षा बल के जवान श्रद्धालु की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पूरी तरह से तत्पर दिखे नगर के प्रवेश और निकास द्वार पर भी जवान और चौकीदार की तैनाती की गई थी मंदिर कार्यालय से प्राप्त सूचनाओं के मुताबिक रांची उच्च न्यायालय के न्यायाधीश और झारखंड सूचना आयोग के पूर्व सचिव एन एन पांडे ने भी आज बासुकीनाथ के बाबा दरबार में अपनी हाजरी दिए शाम तक लगभग 60000 श्रद्धालुओं ने बाबा भोले को जल अर्पित कर चुके थे धार्मिक और पौराणिक मान्यताओं के अनुसार माघ मास को बहुत ही उत्तम मास की संज्ञा दी गई है इस महीने की पूर्णिमा के दिन किसी भी नदी मे स्नान दान और पूजन कार्य करने का हिंदू धर्म में उल्लेखनीय स्थान है |

रिपोर्ट – धनञ्जय सिंह

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here