वैज्ञानिक एवं अनुसंधान परिषद्, विश्व की 100 सबसे बेहतरीन सरकारी संस्थाओं में शामिल |

0
239

 

csir

वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) को विश्व में सरकारी संस्थानों में 12वां स्थान प्राप्त हुआ है। इसने अपने स्थिति में सुधार किया है क्योंकि पिछले लगातार तीन सालों से यह 14 वें स्थान पर था। प्रतिष्ठित सिमागो संस्थान रैंकिंग की 2016 की रिपोर्ट के अनुसार सीएसआईआर को यह स्थान प्राप्त हुआ है। सीएसआईआर की समग्र वैश्विक रैंकिंग में भी में सुधार हुआ है और यह 110 वें स्थान से 99 वें स्थान पर पहुंचा है।

सीएसआईआर देश में शीर्ष स्थान पर है और यह भारत का ऐसा एकमात्र संगठन है जिसे विश्व के शीर्ष 100 वैश्विक संस्थानों के बीच स्थान मिला है।

सिमागो रैंकिंग शैक्षणिक और अनुसंधान से संबंधित संस्थानों का एक वर्गीकरण है। जिसमें अनुसंधान प्रदर्शन, नवाचार, उत्पादन और सामाजिक प्रभाव के सूचकांको के विभिन्न सेटों को मिलाकर मूल्यांकन किया जाता है। रैंकिंग में निम्नलिखित क्षेत्रों का मापन किया जाता है –

अनुसंधान उत्पादन, अंतर्राष्ट्रीय सहयोग, सामान्यकृत प्रभाव (नेतृत्व उत्पादन), उच्च गुणवत्ता वाले प्रकाशन, उत्कृष्टता, वैज्ञानिक नेतृत्व और वैज्ञानिक प्रतिभा पूल के साथ उत्कृष्टता

नवाचार

नवीन ज्ञान और तकनीकी प्रभाव

सामाजिक प्रभाव

वेब साइज और सार्वजनिक क्षेत्र के अंदरूनी संबंध

सीएसआईआर के घटक संस्थान, राष्ट्रीय अंतर्विषयी विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी संस्थान (सीएसआईआर-एनआईआईएसटी), को भारत सरकार के अनुसंधान संस्थानों में पहला स्थान प्राप्त है, इसने अपनी वैश्विक समग्र रैंकिंग को 425 से सुधार कर 353 किया है। सीएसआईआर-एनआईआईएसटी देश के 59 रैंक प्राप्त सरकारी संस्थानों में पहले स्थान पर आ गया है। इसके बाद सीएसआईआर-राष्ट्रीय रासायनिक प्रयोगशाला (सीएसआईआर-एनसीएल), पुणे और भारतीय रासायनिक प्रौद्योगिकी संस्थान (सीएसआईआर-आईआईसीटी), हैदराबाद का स्थान है।

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं |

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here